तेज पत्ता के 11 फायदे और नुकसान | Tej Patta Khane Ke Fayde Aur Nuksan

भारतीय रसोई में आपको तेज पत्ता आसानी से मिल जाता है। इसको मसाले की श्रेणी में रखा गया है। और यह एक ऐसा मसाला है जिसका प्रयोग भोजन को स्वाद और खुशबू देने के लिए किया जाता है। इसके अतिरिक्ता तेज पत्ते का प्रयोग कई शारीरिक बीमारियों से बचने में किया जाता है। इस लेख में हम बता रहे हैं कि तेज पत्ता किस प्रकार आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकता है। Bay Leaf (Tej Patta) in Hindi

Table of Contents

तेज पत्ता क्या है — What is Bay leaf

यह एक सुगंधित पत्तेदार वृक्ष है जिसका परिवार लॉरस से संबंधित है। तेज पत्ते का वैज्ञानिक नाम लॉरस नोबिलिस (laurus nobilis) है। इसका प्रयोग भोजन बनाने के साथ ही औषधि निर्माण में कई वर्षो से होता रहा है। इसकी बहुत ही प्रजाति पाई जाती है। इसमें टैनिन, फ्लेवोन, यूजेनॉल, लिनालूल, फ्लेवोनोइड्स एंथोसायनिन पाये जाते हैं। कई प्रजातियों में से सिर्फ दो प्रमुख प्रजातियां है जो मसाले, एसेंशियल ऑयल व पारंपरिक चिकित्सा में प्रयोग होते हैं वह है — लॉरस एजोरिका और एल नोबिलिस। इस प्रयोग हरे पत्त्ते के रूप में नहीं किया जाता है बल्कि इसको सुखाकर ही प्रयोग किया जाता है। आगे के लेख में इससे होने वाले फायदों के बारे में विस्तार से जानेंगे।

तेज पत्ता के पौष्टिक तत्व – Bay Leaf Nutritional Value in Hindi

तेज पत्ते में बहुत से पौष्टिक तत्व पाये जाते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माने जाते हैं वह निम्न हैं —

पोषक तत्व          

  • विटामिन-सी
  • प्रोटीन   
  • कार्बोहाइड्रेट
  • कैल्शियम
  • आयरन 
  • फैट        
  • फाइबर  

तेज पत्ता के फायदे – Benefits of Bay Leaf in Hindi

नीचे तेज पत्ते से होने वाले फायदों को बताया गया है यह किस प्रकार आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकता है इसकी जानकारी दी गई है।

Tej Patta Khane Ke Fayde

  • डायबिटीज अर्थात मधुमेह की समस्या से परेशान लोगों के लिए तेज पत्ते का सेवन लाभकारी हो सकता है। एक अध्ययन के अनुसार तेज पत्ता युक्त कैप्सूल का सेवन करने से इंसुलिन के स्तर में सुधार होता हैं इससे व्यक्ति के रक्त में ग्लूकोज की मात्रा घटती है। साथ ही कोलेस्ट्रॉल प्रोफाइल में सुधार होता है। शोध में पाया गया है कि यह आपके कोलेस्ट्रॉल स्तर में 20% तक की कमी ला सकता है। अत: इसी कारण से यह माना जाता है कि तेज पत्ता खाने से डायबिटीज से बचाव में सहायता मिल सकती है।
  • तेज पत्ता के फायदे में खांसी, अस्थमा, फ्लू, ब्रोंकाइटिस व इन्फ्लूएंजा जैसी सांस से जुड़े रोगों  में हो सकते हैं। इसके अर्क में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, इसलिए इसे सूजन कम करने में भी फायदेमंद माना जा सकता है। इसमें एथनॉलिक एक्सट्रैक्ट कंपाउंड पाया जाता हैं जिसमें एंटीइंफ्लेमेटरी और दर्दनिवारक प्रभाव होता है। इसी कारण से यह श्वसन तंत्र में आई सूजन और उससे पैदा होने वाले रोगों में फायदेमंद हो सकता हैं
  • तेज पत्ता दांतों के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। एक शोध से पता चला है कि इसकी टहनियों में कुछ वाष्पशील अर्थात कम तापमान में ही भाप बनने वाला तेल होता है। जो खून के बहाव को बेहतर करने में मदद कर सकता है। इसके अतिरिक्त इसमें पाया जाने वाला विटामिन-सी मसूड़ों के टिश्यू में कसाव लाकर उन्हें स्वस्थ रखने में मदद करता है। आप तेज पत्ते से बने मंजन से अपने मसूड़ों को मजबूत कर सकते हैं जिससे आपके दांत भी स्वस्थ्य रहते हैं।
  • तेज पत्ता में पाये जाने वाले गुण कैंसर से बचाने में मदद कर सकता है। यह कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकने में मदद करता है जिससे आपका कैंसर को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। क्योंकि एक शोध से पता चला है कि यदि आप पौष्टिक भोजन और व्यायाम करते हैं तो आप कैंसर जैसी बिमारियों से बच सकते हैं। तेज पत्ते के अर्क में कैंसर रोधी प्रभाव पाया जाता है, जो स्तन कैंसर के विकास को बाधित कर सकता है। तेज पत्ते में मौजूद एंटीप्रोलिफेरेटिव और साइटोटॉक्सिक गुण स्तन कैंसर को पनपने से रोक सकते हैं। तेज पत्ता आपके लिए बहुत ही पौष्टिक है जिसमें कई प्रकार के तत्व पाये जाते हैं जो आपके ​लिए फायदेमंद होते हैं। यह ध्यान रहे कि यह कोई पूर्ण उपचार नहीं है यह सिर्फ बचाव करने में मदद कर सकती है इलाज नहीं अत: आपको इसके उपचार के लिए किसी अच्छे डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए।
  • यदि आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो आपके लिए तेज पत्ता का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। तेज पत्ता को उन जड़ी-बूटियों में शामिल किया गया है जो भूख को नियंत्रित करने में मदद कर सकती हैं। अत: यदि आप अतिरिक्त कैलोरी लेने से बचना चाहते हैं या फिर अपना वजन कम करना चाहते हैं तो आप इसका प्रयोग कर सकते हैं।
  • दिल की बिमारी होने का एक कारण बढ़ता कोलेस्ट्रॉल का स्तर भी है। कोलेस्ट्रॉल को कम करने  के लिए आप तेज पत्ता का प्रयोग कर सकते हैं। एक शोध से पता चला है कि तेज पत्ते से प्राप्त इथेनॉल अर्क कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम करने में मददगार हो सकता है। इस अर्क में फेनौलिक यौगिक होते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट गतिविधि के चलते खराब कोलेस्ट्रॉल को घटाने में सहायक हो सकते हैं और अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने में मदद करता हैं। यदि आपका कोलेस्ट्रॉल स्तर सही है तो आपका हृदय भी स्वास्थ्य रहता है। अपने हृदय को स्वस्थ्य रखने के लिए आप तेज पत्ता का प्रयोग कर सकते हैं।
  • सूजन एवं दर्द को कम करने के लिए आप तेज पत्ते का प्रयोग कर सकते हैं। एक अध्यन में पाया गया है कि इन पत्तियां शरीर में COX-2 नामक एंजाइम को बढ़ने से रोकता है जिससे कि आपके शरीर सूजन और दर्द नियंत्रित रहता है।
  • यदि आपने अपने घाव जल्दी भरने से है तो आप तेज पत्ता का प्रयोग कर सकते हैं एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार तेज पत्ते का अर्क ग्रेनुलेशन टिश्यू (Granulation tissue) यानी जख्म को भरने में सहायक कनेक्टिव टिश्यू के विकास में मदद करता है। इसके साथ ही तेज पत्ते का अर्क हाइड्रॉक्सीप्रोलाइन (Hydroxyproline) जैसी जटिल रासायनिक क्रियाओं को भी बढ़ाता है जिससे आपका घाव जल्दी भरता है।
  • तेज पत्ता पथरी के उपचार में भी प्रयोग होता है। यह किडनी और पेशाब की नली में मौजूद पथरी के उपचार में पारंपरिक रूप से प्रयोग किया जाता है। तेज पत्ता किडनी की मांसपेशियों को आराम देने में सहायक होता है। इसमें लॉरिक एसिड होता है जो किडनी के रोगों में राहत दिलाने में मदद कर सकता है।
  • तेज पत्ते का उपयोग आप बालों के लिए कर सकते हैं। यह बालों की जड़ों को फंगल और बैक्टीरियल संक्रमण से बचाने में मदद करता हैं क्योंकि इसतमें एंटी फंगल और एंटी बैक्टीरियल गुण पाया जाता है। तेज पत्ते से निकले एसेंशियल ऑयल के प्रयोग से आप बालों में होने वाली रूसी और सोरायसिस से बच सकते हैं।
  • बालों के साथ ही यह त्वचा के लिए भी बहुत फायदेमंद है। इसके एसेंशियल ऑयल का प्रयोग कॉस्मेटिक उद्योग में क्रीम, इत्र और साबुन बनाने में होता है। यह तेल त्वचा को गहराई से साफ करने में सहायक होता है। इसका कारण है इसमें पाया जाने वाला एस्ट्रिंजेंट गुण। साथ ही तेज पत्ते का प्रयोग स्किन रैशेज और कीड़ों व मच्छरों से बचने के लिए भी किया जाता है।

तेज पत्ता का उपयोग – How to Use Bay Leaf in Hindi

  • तेज पत्ता एक मसाला है अत: इसका प्रयोग व्यंजनों का जायका बढ़ाने के लिए किया जाता है।
  • बिरयानी, चिकन या मटन करी व पुलाव जैसे मसालेदार व्यंजनों में इसका इस्तेमाल बहुत ही अधिक मात्रा में होता है।
  • तेज पत्ते को खीर जैसे मीठे पकवानों में भी डाला जाता है।
  • ब्लैक टी में भी तेज पत्ता इस्तेमाल करते हैं।
  • बालों के स्वास्थ्य के लिए आप एक कप पानी में कुछ तेज पत्ते उबालें और 15 मिनट के बाद इस पानी को ठंडा कर लें और शैंपू के बाद बालों और स्कैल्प पर इस पानी को लगाएं। आप इसका प्रयोग एक दिन छोड़कर कर सकते हैं।
  • दर्द और सूजन से राहत पाने के लिए आप तेज पत्ते के तेल की कुछ बूंदें प्रभावित जगह पर लगा कर हल्के हाथों से मालिश करें इससे आपकेा फायदा होगा।

तेज पत्ता के नुकसान – Side Effects of Bay Leaf in Hindi

उपर आपको हम तेज पत्ते के लाभ बता चुके है और अब इससे होने वाले नुकसानों को बताने जा रहे हैं। वैसे तो इसका कोई नुकसान नहीं है पर इसकी अधिक मात्रा आपको नुकसान पहुंचा सकती है। इसमें रखी जाने वाले कुछ सावधानियां निम्न हैं — 

  • डायबिटीज के रोगी तेजपत्ते का सेवन डॉक्टर से पूछ कर ही करें।
  • यदि आप गर्भवती हैं या फिर स्तनपान करा रही हैं तो इसके प्रयोग से पहले डॉक्टर से अवश्य ही पता करें।
  • तेज पत्ते में पाये जाने वाले तत्व एनेस्थीसिया की दवाओं के साथ रिएक्शन करके केंद्रीय तंत्रिका तंत्र को धीमा कर सकते है अत: आपको सर्जरी से कम से कम 2 सप्ताह पहले इसके सेवन से बचना चाहिए। 
  • इससे आपको एलर्जी हो सकती है। तेज पत्ते से बना एसेंशियल ऑयल संवेदनशील त्वचा पर एलर्जी कर सकता है।

हमने इस लेख में आपकेा तेज पत्ते के बारे में पूरी जानकारी दी है कि वह क्या है, इसके पोषक तत्व, इससे होने वाले लाभ, इसका उपयोग एवं इसके प्रयोग में रखी जाने वाली सावधानियां। इन स​ब जानकारी से आपको फायदा होगा। अगर यह लेख आपकेा अच्छा लगा तो आप इस लेख को अपने दोस्तों के साथ अवश्य ही शेयर करें।

Leave a Comment

close
Copy link
Powered by Social Snap