शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए | Shatavari Benefits For Male in Hindi

शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए — शतावरी प्राचीन जड़ी—बूटी है जिसका प्रयोग आयुर्वेद में वर्षों से हो रहा है। शतावरी पुरूष और महिला दोनों के लिए ही फायदेमंद होती है। परन्तु इस लेख में हम सिर्फ पुरूषों के होने वाले फायदों के बारे में बात करने जा रहे हैं। शतावरी का प्रयोग आयुर्वेद चिकित्सा में वर्षों से पुरूषों की प्रजनन क्षमता को दूर करने के लिए किया जा रहा है। शतावरी पुरुषों के शरीर में हार्मोन्स के संतुलन को बनाने में मदद करती है।

ऐसा माना जाता है कि शतावरी के चूर्ण में यौन क्षमता को बढ़ाने के साथ ही यौन उत्‍तेजना को बढ़ाने के गुण भी पाये जाते हैं। इसके अतिरिक्त भी शतावरी का प्रयोग कई और समस्याओं के उपचार में किया जाता है। हम इस लेख में आपको पुरूषों के लिए शतावरी चूर्ण के फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं। तो आइये शुरू करते हैं इस लेख को — Shatavari churna use in Hindi

Table of Contents

शतावरी चूर्ण क्‍या है ? – Shatavari Churna in Hindi

शतावरी के जड़ों के पाउडर को ही शतावरी चूर्ण कहा जाता है। आयुर्वेंद में ऐसा माना जाता है कि शतावरी सौ रोगों के उपचार में काम आती है। इसी कारण इसे 100 रोगों की दवा कहते हैं। शतावरी को पुरूषों के साथ ही महिलाओं के लिए भी बहुत फायदेमंद जड़ी—बूटी माना जाता है। अगर आप इसका नियमित रूप से रोग सेवन करते हैं तो यह आपकी शारीरिक क्षमता के साथ ही कई प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को भी दूर करने का काम करती है। शतावरी का वैज्ञानिक नाम एस्‍पैरगस रेसमोसस (Asparagus racemosus) है।

शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए – Benefits of Shatavari for Men in Hindi

1. मधुमेह  में पुरुषों के लिए शतावरी के फायदे —

य​दि आप मधुमेह से परेशान हैं तो आपके लिए शतावरी बहुत ही लाभकारी हो सकती है। यदि आपको मधुमेह और उच्च रक्‍तचाप से जुड़ी परेशानियां हैं तो यह आपके गुर्दे को क्षति पहुंचा सकता हे। एक शोध के अनुसार यदि आप शातवरी का सेवन करते हैं तो यह आपकी किड़नी में हो रही क्षति को रोक सकती है। इसके अलावा यह शरीर में रक्त में बढ़े शर्करा के स्तर के साथ ही कोलेस्‍ट्रॉल को भी निय‍ंत्रित करती है। इस तरह यदि आप शतावरी का नियमित सेवन करते हैं तो आप मधुमेह के रोग को नियंत्रित कर सकते हो।

2. वजन घटाने में शतावरी के फायदे —

आज बढ़ता वजन एक आम समस्या होती जा रही है यदि आप भी बढ़ते वजन से परेशान हैं तो आपको  शतावरी चूर्ण का सेवन अवश्य करना चाहिए यह वजन घटाने का एक असरदार घरेलू उपाय है। शतावरी में पाया जाने वाले घुलनशील और अघुलनशील फाइबर पाये जाते हैं जो आपके पाचन तंत्र को मजबूत करने का कार्य करते हैं साथ ही आपकी भोजन बचान की क्षमता को भी बढ़ाते हैं।

यदि आप शतावरी का सेवन करते हैं तो लम्बे समय तक आपकेा भूख नहीं लगती है जिससे आप अनावश्यक भोजन नहीं करते हैं और आपका वजन नहीं बढ़ता है। शतवारी में वसा और कैलोरी की मात्रा बहुत ही कम पाई जाती है जो वजन को कम करने में बहुत ही मददगार होती है। वजन कम करने के लिए सिर्फ शतावरी चूर्ण का सेवन ही काफी नहीं होगा बल्कि आपकेा इसके साथ ही नियमित व्यायाम भी करना चाहिए। यदि आप इसके साथ—साथ व्यायाम भी करते हैं तो यह आपके लिए और अधिक लाभकारी हो सकती है।

3. कामोद्दीपक के रूप में पुरूषों के लिए शतावरी के फायदे —

शतावरी का उपयोग वर्षो से पुरुषों की यौन शक्ति को बढ़ाने में होता रहा है। यदि आप नियमित रूप से शतावरी का सेवन करते हैं तो यह आपकी यौन उत्तेजना और इरेक्शन को बढ़ाने लगती है। एक शोध से पता चला है कि जो पुरूष नियमित रूप से इसका सेवन करते हैं वे यौन रोग से ग्रसित होने पर इन बिमारियों के उबर सके हैं। नपुंसकता में भी शतावरी का नियमित सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है। यह आपके यौन स्वास्थ्य के साथ ही आपके स्टेमिना को भी बढ़ती है।

आयुर्वेद में इस प्रकार की शक्तिशाली जड़ी—बूटी को सत्व (Sattva) के नाम से जाना जाता है। यह पुरूषों के यौन अंगों को स्वस्थ्य रखने के साथ ही उनमें होने वाली सूजन को भी कम करती है। जो पुरूष शतावरी का नियमित सेवन करते हैं उनका टेस्टोस्टेरोन बढ़ जाता है तथा उनमें स्वाभाविक रूप से कामेच्छा में सुधार होता है। इसके साथ ही शतावरी पुरूषों में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में सहायक होती है। इस कारण यह पुरूषों की प्रजनन शक्ति को भी बढ़ाती है।

6. पुरूषों में पाचन को बढ़ानें में शतावरी के लाभ —

पुरूषों के लिए शतावरी बहुत ही फायदेमंद होती है। शतावरी में पाये जाने वाले पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ पाये जाते हैं जो पाचन शक्ति को बढ़ाने में मदद करते हैं। इसमें पाये जाने वाले म्‍सूसिलेज, अल्‍कालॉइड और आइसोफ्लेवोन्‍स पाचन में अपनी महत्‍वपूर्ण भूमिका को निभाते हैं। यदि आप शतावरी का रोज सेवन करते हैं तो आपके पेट से जुड़ी समस्याये कम हो जाती हैं। इसके साथ ही इसमें पाया जाने वाला उच्च फाइबर पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करने के साथ ही यह आपकी पाचन शक्ति को भी बढ़ाता है।

7. संक्रमण में पुरूषों के लिए शतावरी के फायदे —

शतावरी में प्राकृतिक रूप से एंटीबायोटिक गुण पाये जाते हैं। यदि आप शतावरी चूर्ण का नियमित सेवन करते हैं तो आपको संक्रमण के कारण होने वाले रोगाों से बचने में मदद मिलती है। इसके नियमित सेवन से आप हैजा, पेचिश, दस्‍त और स्‍टैफिओलोकस जैसी गंभीर संक्रमित बीमारियों से बचा जा सकता है। इसके साथ ही शतावरी आपकी रोग प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद करती है। करने में भी सहायक होते हैं।

8. पुरुषों के यौन स्‍वास्‍थ्‍य में शतावरी के लाभ —

यदि आप दवा के रूप में शतावरी का प्रयोग कर रहे हैं तो यह आपकी प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। शतावरी में पाये जाने वाले पोष तत्‍व शुक्राणुओं की मात्रा के साथ ही उनकी गुणवत्‍ता को भी बढ़ा देते हैं। इन सबके अतिरिक्त यह पुरूषों में यौन कमजोरी को भी दूर करने में मदद करती है।

9. पुरुषों में अल्‍सर के उपचार में शतावरी के लाभ  –

यदि आपको अल्सर की समस्या है तो शतावरी आपके लिए फायदेमंद हो सकती है। अल्‍सर में पेट की सुरक्षात्‍मक परत टूटने लगती है जिससे पेट के अंदर के भाग एसिड से क्षतिग्रस्‍त होने लगते हैैं। पुरूषों के साथ ही महिलाओं में भी इस स्थिति से निपटने में शतावरी चूर्ण फायदेमंद हो सकता है। एक शोध के अनुसार शतावरी का प्रयोग करने से शरीर में हाइड्रोक्‍लोरिक एसिड का उत्पादन कम मात्रा में होता है जिससे  एैस्ट्रिक अल्‍सर के इलाज फायदा होता है।

शतावरी के उपयोग – Uses of Shatavari

शतावरी चूर्ण के प्रयोग की कोई प्रमाणित विधि नहीं है। इसे आप अपनी सुविधा के अनुसार खा सकते हैं। यह बाजार में आसानी से चूर्ण, गोली और कैप्सूल के रूप में मिल जाती है जो आपको सही लगे उसका सेवन आपको करना चाहिए। यदि आप चूर्ण का सेवन करते हैं तो आप इसको दिन में दो बार ले सकते हैं। इसके लिए आपको एक छोटी चम्मच शतावरी चूर्ण को गुनगुने दूध मिलाकर पी लेना चाहिए। आप शतावरी चूर्ण का सेवन भोजन करने के बाद कर सकते हैं। इसको कभी भी खाली पेट नहीं खाना चाहिए।

शतावरी चूर्ण की खुराक – Shatavari Powder Dosage

अब शतावरी चूर्ण की खुराक की बात करें तो इसकी 3 से 9 ग्राम मात्रा को आप प्रतिदिन ले सकते हैं। इसको आप दिन में दो बार खा सकते हैं। इसको गर्म दूध के साथ लेना अधिक फायदेमंद होता है। यदि आप चाहे तो इसको पानी या फिर शहद के साथ भी ले सकते हैं।

शतावरी चूर्ण के नुकसान – Side Effects of Shatavari Powder in Hindi

शतावरी एक आयुर्वेदिक औषधी है। जिसके बहुत से लाभ हैं। जड़ी बूटी होने के कारण इसके नुकसान ना के बाराबर होते हैं। मगर इससे होने वाले नुकसान के उपर अभी तक बहुत कम ही शोध हुये हैं। मगर फिर भी आपको इससे होने वाले कुछ नुकसान के बारे में जानकारी देने जा रहे है जो निम्न हैं —

  • शतावरी का अधिक मात्रा में सेवन करना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। अत: आप इसका सेवन उचित मात्रा में ही करें।
  • यदि आपकेा शतावरी में पाये जाने तत्वों से एलर्जी होती है तो आपको शतावरी चूर्ण का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • शतावरी में पाया जाने वाला फाइटोएस्‍ट्रोजेन (phytoestrogens), हार्मोन संवेदनशील स्थितियों जैसे स्तन कैंसर, एंडोमेट्रियोसिस के साथ ही कई और संवेदनशील बिमारियों के होने का कारण बन सकता है।
  • यदि आप पहले से ही किसी विशेष बिमारी की दवा का प्रयोग कर रहे हैं तो आपकेा शतावरी के प्रयोग से पहले अपने डॉक्टर से अवश्य पूछ लेना चाहिए।

दोस्तों आपको यह लेख ”शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए — Shatavari Benefits For Male in Hindi ” कैसा लगा ​यदि आपको यह अच्छा लगा तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करें। हमने इसमें आपको शतावरी के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है। आप इस जानकारी को पढ़कर इससे होने वाले फायदों को जरूरी अपनायेंगे जिससे आपका स्वास्थ्य बेहतर हो सकते। मगर ध्यान रखें इसके प्रयोग से पहले आपको अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य करनी चाहिए।

Leave a Comment

close
Copy link
Powered by Social Snap