मसूड़े फूलने का कारण | Gum Recession Causes Symptoms and Treatments

मसूड़े फूलने का कारण — आयुर्वेद के अनुसार मसूडे फूलने के कई कारण होते हैं उनमें से मुख्य है पित्त व रक्त दोष, स्कर्वी रोग, फंगल और बैक्टीरिया का इन्फेक्शन, गर्भावस्था के दौरान मुंह की सफाई ठीक से न करना आदि।   यदि आपके शरीर में पोषक तत्वों की कमी और और आप मसूड़ों की उचित सफाई नहीं करते हैं तो यह लक्षण आपमें दिखने शुरू हो सकते हैं।

इन लक्षणों के बढ़ने से आपके मसूड़ों में सूजन आना एवं उनसे खून निकलने के साथ ही आपके दांत सेंसिटिविटी महसूस करने के साथ दांत ढीले होने लगते हैं। यदि आप इन समस्याओं का समय से उपचार न करें तो यह लक्षण आगे जाकर गम्भीर रोग का रूप ले सकते हैं।

हम इस लेख में आपको इससे जुड़े सभी सवालों के जवाब देने जा रहे हैं की मसूड़े फूलने के कारण और उपचार क्या हैं। तो आइये शुरू करते हैं इस लेख को — मसूड़े फूलने का कारण और उपाय, Causes and Remedies for Gingivitis

मसूड़़े फूलने का कारण — Causes of Gingivitis  in Hindi

आगे लेख में आपको मसूड़े फूलने के कारणों को विस्तार से बताने जा रहे हैं।

1. स्कर्वी रोग —

विटामिन सी की कमी से स्वर्की रोग होता है यह रोग मसूड़ों से जुडा एक रोग है। यदि यह रोग बढ़ जाय तो इससे आपके मसूड़ों से खून आने लगता जिससे मसूड़ों में सूजन आ जाती है और दांत ​ढीले होने लगते हैं जो बाद में गिर भी सकते हैं। यदि आपने इस समस्या से बचना है तो आपको विटामिन सी से युक्त खाद्य पदार्थो का सेवन करना चाहिए।

2. वायरस और फंगल इन्फेक्शन —

मुंह में कई प्रकार के वायरस इन्फेक्शन होते है जिनके कारण मसूड़ों में छाले व घाव होने की समस्या होती है। इस कारण से मसूड़ों से खून निकलना एवं सूजन आना आम है। इसके अतिरिक्त यदि आपके मसूड़ों में फंगल इन्फेक्शन हो जाय तो इसके कारण भी आपके मसूड़ों में सूजन आ जाती है।

3. मुंह की सफाई न करना —

यदि आप अपने  मुंह की सही प्रकार से सफाई नहीं करते हैं तो आपके मसूड़ों में सक्रमण का खतरा पैदा हो जाता है। जिस कारण मसूड़ों में सूजन आना और उससे रक्त निकला शुरू हो जाता है। अत: इस रोग से बचने के लिए मुंह की उचित प्रकार से सफाई अति आवश्यक है। इसके लिए आपकेा दिन में कम से कम दो बार ब्रश करना चाहिए।

4. शरीर में पोषक तत्वों की कमी —

मसूड़ों में सूजन आना का एक मुख्य कारण यह भी है कि आपके शरीर में जब पोषक तत्वों की कमी हो जाती है तो मसूड़े फूलने लगते हैं। आपने यदि इससे बचना है तो आपको पौष्टिक भोजन का सेवन करना चाहिए। यदि आपके शरीर में विटामिन की कमी हो जाय तो भी मसूड़ों में सूजन आती है। जैसे — विटामिन बी1, बी12, बी2 एवं 3।

5. मुंह से सांस लेने से —

यदि आप नाक की जगह मुंह से सांस लेते हैं तो यह भी एक कारण है मसूड़ें के फूलने का। मुंह से सांस लेने से आपके मसूड़े बार—बार गिले होते हैं और सूखते हैं जिससे उनमें इन्फेक्शन का खतरा अधिक हो जाता है। ऐसा बार—बार होने से मसूड़ों का फूलने का खतरा अधिक हो जाता है।

6. गर्भावस्था में —

यह आम समस्या है जो गर्भावस्था के समय महिलाओं में होती है। इस अवस्था में शरीर बच्चे के पालन—पोषण में अधिक ही व्यस्थ रहता है । और ऐसी स्थिति में शरीर में रक्त प्रवाह कि अधिक आवश्यकता होती है। यह रक्त प्रवाह ही कभी—कभी मसूड़ों के सूजन का कारण बनता है। यदि समय से इसका उपचार नहीं किया गया तो यह आगे जाकर आपके दांतों के गिरने का कारण भी हो सकता है। 

7. माउथवांश एवं टूथपेस्ट की एलर्जी होने पर —

यदि आपको माउथवांश या टूथपेस्ट से किसी प्रकार की एलर्जी है तो यह आपके मसूड़े के फूलने का कारण हो सकता है। यदि आपको इस प्रकार की समस्या है तो आपको इसके लिए डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए।

मसूड़े के फूलने को सही करने के उपाय —

  • यदि आपके मसूड़ों में सूजन है तो आपको हल्दी का प्रयोग करना चाहिए क्योंकि इसमें एंटी—इफ्लेमेटीर एवं करक्यूमिन तत्व पाया जाता है जो सूजन कम करने वाला होता है। इसके लिए आप हल्दी में सरसों के तेल के साथ नमक को मिलकर एक पेस्ट तैयार कर लें इसे अपने मसूड़ों पर 10 मिनट तक लगा रहने दें। 10 मिनट बाद अपने मुंह को अच्छी तरह साफ कर लें। ऐसा आप सप्ताह में दो या तीन बार कर सकते हैं।
  • यदि आपने अपने मसूड़े के फूलने की समस्या से निजात पानी है तो आपको इसके लिए अपने भोजन में पौष्टिक तत्वों को शामिल करना चाहिए। इसके साथ ही भोजन में विटामिन सी युक्त फलों को शामिल करें। ऐसा करने से आपके  मसूड़े एवं दांत स्वस्थ्य रहेंगेे।
  • मसूड़ों में सूजन को कम करने के लिए आप नमक का प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि इसमें ओेरल हेल्थ प्रोटेक्टिव गुण पाया जाता है। इसके लिए आपको गुनगुने पानी में नमक को डालकर उस पानी से कुल्लका करना चाहिए यह आप दिन में एक से दो बार कर सकते हैं।
  • बेकिंग सोड़ा बैक्टीरिया को खत्म करने के काम आता है। यदि आप मसूड़ों के फूलने की समस्या से परेशान हैं तो आपको अपने मसूड़ों में पेस्ट की तरह बेकिंग सोड़ा को लगाना चाहिए और इसे करीब 10 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें फिर उसे पानी से साफ करें। ऐसा करने से आपके मसूड़ों में आ रही सूजन दूर हो सकती है।
  • मसूड़ों की सूजन के लिए आप नींबू का भी प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि नींबू में पोटेशियम, कैल्शियम, एंटी बैक्टिरियल गुण के साथ ही विटामिन सी एवं ए पाया जाता है जो मसूड़ों की सूजन को कम करने में सहायता करते हैं। इसके अपको गुनगुने पानी में नीबू के रस को डालकर उससे कुल्ला करना चाहिए।
  • मसूड़ों के फूलने से बचने के लिए आप सरसों के तेल में नमक को मिलकर मसूड़़ों में हल्के—हल्के मसाज करनी चाहिए। इससे यह समस्या ठीक हो जाती है।
  • अजवाइन में पाये जाने वाले गुण सूजन को कम करने के काम आते हैं। यदि आपको मसूड़ों के फूलने या सूजन की समस्या है तो अजवाइन को भून ले व उसे पीस कर एक चूर्ण बना लें अब इसमें सरसों के तेल को मिलाकर मसूड़ों में लगायें। इसके कुछ समय ऐसे ही रहने दें। ऐसा करने से आपके मसूड़े में सूजन की समस्या का अंत हो जायेगा।

दोस्तों हमने इस लेख में आपको मसूड़े फूलने के कारण और इसके उपायों के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है हम आशा करते हैं की यह जानकारी आपके लिए उपयोगी हो। यदि आपको यह लेख अच्छा लगा तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करें।

आपको यह ध्यान अवश्य रखना चाहिए यदि आपके लिए यह उपाय उपयोगी नहीं हो रहे हैं तो आपको तुरन्त अपने डॉक्टर से सलाह करनी चाहिए।

Leave a Comment

close
Copy link
Powered by Social Snap