Levosulpiride Tablets in hindi-लेवोसेलपिरीड की जानकारी

Levosulpiride Tablets in hindi — लेवोसेलपिरीड “एटिप्लिक एंटीसाइकोटिक ड्रग्स” की श्रेणी में आता है और सामान्यतौर पर इसका इस्तेमाल मानसिक विकारों के लिए किया जाता है। लेवोसुलिपाईड (लेवोसल्प्राइड) में एंटीसाइकोटिक, एंटीड्रिप्रेसेंट, उल्टी रोकने वाले गुण एवं एंटी डिस्पेप्टिक गुण होते हैं| Levosulpiride गैस्ट्रोइसोफैगल (Gastroesophageal) रिफ्लक्स डिजीज और इरिटेबल बाउल सिंड्रोम के उपचार के लिए प्रयोग होती है। Levosulpiride का प्रयोग शीघ्रपतन के उपचार में भी होने लगा है।

क्योंकि शीघ्रपतन के कारण को मनोवैज्ञानिक और जैविक कमियों को माना जाता है। इसके प्रयेाग के कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं जो निम्न हैं — चक्कर आना, अनिद्रा, थकान, मासिक धर्म में अनियमिता, पेट दर्द, उनींदापन, यौन इच्छा में कमी, अनियमित दिल की धड़कन। लेवोसल्प्राइड (Levosulpiride) का उपयोग करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से परामर्श अवश्य कर लेना चाहिए। – लेवोसल्प्राइड की जानकारी, Levosulpiride Tablets in hindi

Table of Contents

Levosulpiride रासायनिक संरचना —

इसमें दो तत्व पाये जाते हैं —

  1. एसोमेपेरसोल (Esomeprazole)
  2. लेवोसलपिरैड  (Levosulpiride)

लेवोसल्प्राइड को ऐंटिसेप्टिक दवा माना जाता है और इसमें Levosulpuride सक्रिय तत्व के रूप में होता है।

Levosulpiride के उपयोग- Use of Levosulpiride

इस दवा का प्रयोग कई बीमारियों होता है। परन्तु मुख्य रूप से मानसिक विकारों और उनके लक्षणों की रोकथाम, नियंत्रण और उपचार में Levosulpiride का इस्तेमाल किया जाता है। इसके साथ ही इस दवा का प्रयोग निम्न बिमारियों के उपचार में भी किया जाता हैं —

  • डिप्रेशन
  • चिंता का विकार
  • मधुमेह गैस्ट्रोपेरिसिस
  • मुंह में जलन वाला सिंड्रोम
  • समय से पूर्व स्खलन
  • गैस्ट्रोसोफेजियल रिफ्लेक्स बीमारी अर्थात की दिल की धड़कन का अनि​यमित होना

Levosulpiride (लेवोसेलपिरीड) कैसे काम करता है?- How Does Levosulpiride Work?

ये हॉर्मोन, डोपामाइन दिमाग़ में न्यूरोट्रांसमीटर के रूप में काम करता है। Levosulpiride में डोपामाइन का ख़ुद ग्रहण करने की क्षमता होती है। इससे यह मस्तिष्क और पेट की विशेष जगहों में इन न्यूरोट्रांसमीटरों की क्रिया को संशोधित करता है।

Levosulpiride की खुराक – How to take Levosulpiride

Levosulpiride दवा को लेने की विधि और इसकी कितनी मात्रा लेनी चाहिए यह आपका डॉक्टर ही आपको बतायेगा क्योंकि अलग—अलग बिमारी में इसकी अलग—अलग खुराक हो सकती है। और अधिक मात्रा लेने पर आपको नुकसान हो सकता है। Levosulpiride को बिना चबाये पानी से साथ निगलना चाहिए। इसका सेवन खाने से कम से कम आधा घंटे पूर्व करना चाहिए। Levosulpiride को चिकित्सक की अनुमति के साथ ही शुरू करें और बंद भी चिकित्सक की अनुमति के साथ ही करना चाहिए।

Levosulpiride का प्रयोग कब न करें — How often to avoid levosulpiride

यदि आप निम्न रोगों में किसी एक से पीड़ित हैं तो आपको इस दवा के सेवन से बचना चाहिए।

  • यदि आपको इसके किसी घटक से एलर्जी है तो इसके प्रयोग से बचे।
  • मिर्गी के रोगी
  • स्तन कैंसर
  • फ्यूक्रोमोसाइटोमा जैसे ट्यूमर
  • गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं
  • गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट
  • दिल के रोगी
  • अस्थमा
  • गुर्दे और लिवर की बीमारी
  • यदि आप किसी भी प्रकार का नशा करते हैं जैसे शराब का तो इसका प्रयोग न करें।

Levosulpiride के दुष्प्रभाव — Sideeffect of Levosulpiride

हर दवा के कुछ न कुछ दुष्प्रभाव तो होते ही हैं उसकी प्रकार लेवोसेलपिरीड के भी कुछ साइड इफेक्ट्स है जो निम्न हैं —

  • असामान्य थकान,
  • कमजोरी
  • वजन बढ़ना
  • आलस्य
  • पोस्टूरल हाइपोटेंशन
  • कब्ज
  • अधिक नींद आना
  • मांसपेशी कठोरता
  • तेज बुखार
  • सिर चकराना
  • त्वचा पर चकत्ते होना
  • साँसों की कमी
  • होंठ, जीभ, चेहरे या गले में सूजन आना
  • अनियमित मासिक-धर्म
  • पुरुषों में स्तन वृद्धि
  • कामेच्छा में कमी

इसके अलावा Levosulpiride से कुछ एलर्जीक प्रभाव हो सकते हैं। अगर आपको ऐसे कोई  लक्षण दिखते हैं तो चिकित्सा से सम्पर्क करें।

Levosulpiride Tablets की परस्पर क्रियायें एवं उनकी सावधानी

जब अलग-अलग प्रकार के दवाओं का सेवन करते हैं, तो ज़ाहिर सी बात है की जो ज़्यादा तेज  दवाई हैं, वह अधिक प्रभाव डालती है, और इस पूरी प्रक्रिया में, शरीर को नुक़सान होने की सम्भावना बाढ़ जाती है। रोगी को सदा यह सलाह दी जाती है की वो अपने चिकित्सक को अपने द्वारा प्रयोग की जाने वाली सभी दवाओं के बारे में बताए। Levosulpiride  निम्न दवाओं के साथ प्रभाव डाल सकता है:

  • शराब
  • एंटी-एसिड्स
  • एंटीहाइपेर्टेन्सिव दवा
  • कोर्टिकोस्टेरोइड्स
  • फ्यूरोसीमाइड
  • क्लोरोक्विन
  • लीवोडोपा
  • सिसाप्राइड

Levosulpiride का प्रभाव कितनी देर में होता है और कितने समय तक रहता है

इस दवा को लेने के 1 से 2 घंटे के भीतर ही इसका प्रभाव शुरू हो जाता है और इसका प्रभाव 7 से 8 घंटे तक रहता है।

Levosulpiride का भंडारण कैसे करे :How to store Levosulpiride Tablet

  • सबसे पहले इसे बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखें।
  • इसे सीधी धूप और गर्मी से बचाकर कमरे के तापमान पर रखें|
  • नमी वाली जगह में इसको न रखें।

Levosulpiride के बारे में पूछे जाने वाले सामान्य प्रश्न

क्या Levosulpiride की लत लग सकती है ?

ऐसी किसी भी प्रकार सूचना अब तक नहीं है। यदि आप डॉक्टर के बताये अनुसार इस दवा का सेवन करते हैं तो आपकेा इसकी लत नहीं लगेगी।

क्या गर्भवती होने पर Levosulpiride दवा को ले सकते हैं?

गर्भावस्था में इस दवा के उपयोग से बचना चाहिए। इस दवा के इस्तेमाल को तभी कहा जाता है जब यह आपके लिए ज्यादा फ़ायदेमंद हो। ध्यान रहे यदि आप गर्भवती हैं या फिर मां बनने की सोच रहीं हैं तो तो आपको तो अपने डॉक्टर से सलाह करनी चाहिए।

क्या बच्चे के स्तनपान के दौरान Levosulpiride ले सकते हैं?

स्तनपान कराने वाली महिलाओं को Levosulpiride का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि यह दूध में से बच्चे तक पहुंच सकता है और उनको नुकसान पहुंचा सकता है।

क्या शराब के साथ Levosulpiride ले सकते हैं?

यदि आप शराब का सेवन करते हैं तो इस दवा के प्रयोग से बचें। इससे आपकेा नुकसान हो सकता है।

क्या Levosulpiride लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

Levosulpiride को लेने के बाद कभी—कभी कुछ रोगियों को साइड इफेक्ट्स जैसे सेडेशन, उनींदापन, रक्तचाप में कमी, भ्रम आदि हो सकता है। अत: यदि आप भारी मशीनरी या वाहन चलाते हैं तो आपको इस दवा को लेने के बाद सावधानी बरतनी चाहिए।

यदि Levosulpiride की खुराक लेनी याद ना रहे तो क्या होता है?

जैसे ही आपको याद आये तुरंत अपनी छूटी खुराक ले लें परन्तु यदि दो डोज के बीच अन्तराल कम हो तो इस दवा को न लेते हुये अगली खुराक लेनी चाहिए।

Leave a Comment

close
Copy link
Powered by Social Snap