Intagesic MR Tablet in Hindi — इंटाजेसिक एम आर टैबलेट के उपयोग एवं फायदे

Intagesic MR Tablet in hindi — यदि आपकी मांसपेशियों में ऐठन और दर्द रहता है तो आपके लिए इनटैजेसिक-एमआर टैबलेट फायदेमंद हो सकती है। इसको कई दवाओं को मिलाकर बनाया गया है। जो मांसपेशियों में हलचल को बढ़ाता है और इसके दर्द और ऐंठन से मुक्ति दिलाता है। हम इस लेख में आपको Intagesic MR Tablet के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं जो आपके लिए बहुत उपयोग हो सकती है अत: आप इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े। तो आइये शुरू करते हैं इस लेख को — इंटाजेसिक-एमआर टैबलेट के फायदे

Table of Contents

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट क्या है — What is Intagesic MR Tablet in Hindi

इंटाजेसिक-एमआर (Intagesic MR Tablet in hindi) टैबलेट एक पैन किलर है और जिसका प्रयोग मांसपेशियों में होेने वाले दर्द में राहत दिलाने के लिए किया जाता है। Intagesic MR Tablet को इंटस फार्मा कंपनी बनाती है। सामान्य तौर पर इंटाजेसिक एमआर टैबलेट का प्रयोग मांसपेशियों में दर्द, सर दर्द, जोड़ो के दर्द, दांत दर्द एवं मोच के साथ ही कई और बीमारियों के उपचार में किया जाता है। इंटाजेसिक-एमआर टैबलेट दर्द के संकेतों को दिमाग तक पहुंचने से रोकता है। जिससे आपको दर्द का अहसास तक नहीं होता है। इसकी कारण से आपको दर्द में में आराम मिल पाता है।

Intagesic MR Tablet में चलोजोक्साज़ोने (Chlorzoxazone), डिक्लोफेनाक (Diclofenac) और पेरासिटामोल (Paracetamol) जैसे घटक होते हैं। जो स्केलेटल की मांसपेशियों से संबंधित दर्द में भी फायदेमंद होती है। Intagesic MR का प्रयोग खिला​ड़ी अपनी चोट में आराम पाने के लिए करते हैं जिससे उन्हें उनकी मांसपेशियों में दर्द का अहसास नहीं होता हे।

यदि आपको किसी प्रकार की एलर्जी है तो आपको इस दवा को लेने से पहले अपने डॉक्टर से जरूरत पूछ लेना चाहिए। इसमें पाया जाने वाला गर्भवती महिलाओं एवं बच्चे को स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस दवा के प्रयोग से बचना चाहिए। इसके अलावा यदि आपको किडनी या लीवर से जुड़ी कोई बीमारी है तो आपको इस दवा को लेने से  पहले अपने डॉक्टर से जरूर सलाह कर लेनी चाहिए। अगर आप इस दवा को लेते हैं तो आपको कुछ साइड इफैक्ट जैसे चक्कर आना, बेहोशी, भूख न लगना, काला मल आना, खुजली होना आदि हा सकते हैं। यदि आप इस दवा को ले रहे हैं तो ध्यान रहे इसको खाली पेट न लें खाली पेट लेने पर आपको पेट दर्द की समस्या हो सकती है। Intagesic MR Tablet का प्रयोग डॉक्टर की सलाह के अनुसार नहीं लेना चाहिए। आगे लेख में हम इससे होने फायदों और उपयोग के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं।

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के फायदे और उपयोग — Benefits & Uses of Intagesic MR Tablet in Hindi

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट क्या है इसके बारे में हम आपके उपर बता चुके हैं आगे इसके फायदे और उपयोग के बारे में बता रहे हैं कि यह किन बिमारियों में उपयोगी हैं। इस दवा का प्रयोग पेन—किलर की तरह किया जाता है।

  • बुखार
  • वाइरल फ़ीवर
  • चिकनगुनिया
  • मलेरिया
  • डेंगू
  • ऑस्टियोआर्थराइटिस
  • बदन दर्द
  • हाथों और पैरों में दर्द
  • माइग्रेन
  • कंधे में दर्द
  • जोड़ों का दर्द
  • सर दर्द
  • मोच आने पर
  • कान में दर्द
  • मांसपेशियों के दर्द में
  • दांत दर्द
  • गठिया में होने वाले दर्द में
  • साइटिका
  • कलाई में दर्द
  • आँखों में सूजन एवं दर्द
  • स्लीप डिस्क का दर्द
  • प्रेग्नेंसी में बुखार एवं उसके बाद कमर में होने वाले दर्द में

उपरोक्त के अलावा भी इसके प्रयोग की लिस्ट और अधिक लम्बी हो सकती है। इसका प्रयोग डॉक्टर द्वारा कई और बिमारियेां में किया जाता है।

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट की खुराक — Dosage of Intagesic MR Tablet

Intagesic MR Tablet का प्रयोग कई बिमारियों में किया जाता है और पेन—किलर के तौर पर यह सबसे अधिक प्रयोग की जाती है। प्रत्येक रोगी और रोग में यह इसकी खुराक अलग—अलग हो सकती है। Intagesic MR Tablet की खुराक रोगी की उम्र, रोग, उसके चिकित्सा इतिहास और उसकी स्वास्थ्य की स्थिति पर निर्भर करती है। हर व्यक्ति की खुराक दूसरे से भिन्न हो सकती है। अत: इसको लेने से पहले आपको अपने डॉक्टर से इसकी खुराक की जानकारी अवश्य लेनी चाहिए। खुराक के बारे में कुछ सामान्य जानकारी नीचे दी गई है।

यदि आप इंटाजेसिक एमआर टैबलेट का प्रयोग कर रहे हैं तो आपको एक बार में इसकी एक पूरी टैबलेट लेनी चाहिए।

  • इसको लेते समय इसको सीधे खाये इसको चबाने से बचे।
  • डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही इस दवा का सेवन करें।
  • इंटेजेसिस एमआर टैबलेट को आप दिन में दो से तीन बार ले सकते हैं पर ध्यान रहे आप अपने चिकित्सक के दिशा-निर्देशों का पालन करें।
  • 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों यह दवा नहीं देनी चाहिए यदि इसको देना ही पड़े तो इसको देने से पहले आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए नहीं तो इससे बच्चे को नुकसान हो सकता है।
  • इस दवा का अधिक समय तक प्रयोग न करें और बिना डॉक्टर की सलाह के इसका प्रयोग करने से बचें।

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट की विशेषताएँ — Highlights of Intagesic MR Tablet

Intagesic MR Tablet 8-15 घंटों के अन्तराल में असर कर सकती है और अलग—अलग व्यक्ति में इसका असर अलग हो सकता है अत: यदि आपकी खुराक चिकित्सक बीच—बीच में बदल रहे हों तो यह समझना चाहिए कि डॉक्टर शुरूवात में आपके उपर खुराक के असर के अन्तराल को समझने की कोशिश कर रहे हो। इसकी असर के अनुसार वह आपकी खुराक को तय कर सकते हैं।

इस दवा का असर 24 घंटे के अन्तराल में कम हो जाता है लेकिन कुछ अन्य मामलों में यह देखा गया है कि इसका असर एक दिन से भी अधिक रहता है।

आपको इंटागेसिक-एमआर टैबलेट के साथ एल्कोहल का प्रयोग नहीं करना चाहिए इससे आपको नुकसान हो सकता है।

यदि आपको इस टैबलेट के सेवन के बाद कुछ असमान्य लगे तो आपको डॉक्टर को तुरन्त दिखाना चाहिए।

लिवर से जुडे रोगों के मरीजों को भी यह सलाह दी जाती है कि इस दवा के प्रयोग से बचें इसके प्रयोग से आपको नुकसान हो सकता है।

यदि आप गर्भवती हैं तो आपको इस दवा के प्रयोग से बचना चाहिए क्योंकि यह आपको और आपके बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती है।

जो महिलायें बच्चे को अपना दूध पिलाती हैं डॉक्टर उन्हें इंटागेसिक-एमआर टैबलेट के सेवन से बचने की सलाह देते हैं क्योंकि इससे दूध पीने वाले बच्चे को नुकसान हो सकता है। इस दवा में पाया जाना वाला डिक्लोफेनाक तत्व आपको आपके बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है। अत: आपको इस दवा के प्रयोेग से बचना चाहिए।

यदि आप इस दवा को खाने के बाद वाहन चला रहे हैं तो आपकेा वाहन नहीं चलाना चाहिए  क्योंकि दवा खाने के बाद आपको नींद आ सकती है या फिर चक्कर आ सकते हैं।

किडनी के मरीजों को Intagesic MR Tablet का प्रयोग नहीं करना चाहिए। इससे आपका स्वास्थ्य बिगड़ सकता है।

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के साइड इफैक्ट — Side Effects of Intagesic MR Tablet in Hindi

किसी भी दवा को सही प्रकार से न खाने या फिर ओवर डोज लेने पर नुकसान हो सकता है। उसकी प्रकार आपको इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के साइड-इफ़ेक्ट हो सकते हैं। नीचे इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के कुछ साइड इफेक्ट के लक्षण दिये गये हैं यदि आपकेा इस दवा के सेवन के बाद ऐसे लक्षण दिखे तो तुरन्त अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें या सीधे हॉस्पिटल जायें।

  • तेज दस्त होना
  • पेट दर्द
  • उल्टी या मतली आना
  • क़ब्ज़
  • पेट फूलना
  • घबराहट
  • मानसिक कमजोरी होना
  • पेशाब का न आना
  • दिल की धड़कन तेज हो जाना
  • अधिक प्यास लगना
  • गैस की समस्या
  • भूख का न लगना
  • त्वचा का रूखापन
  • सिर दर्द
  • सिर घूमना या चक्कर आना
  • त्वचा में लाल चकत्ते आना

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट की सावधानियाँ — Precautions of Intagesic MR Tablet

  • यदि आपको हृदय से जुड़़ी समस्या होती है तो आपके लिए Intagesic Mr सुरक्षित मानी जाती है परन्तु लेने से पहले आपको डॉक्टर से जरूर सलाह लेनी चाहिए जिससे आप इससे होने नुकसान से बच सकें।
  • यदि आप इस दवा का सेवन कर रहे हैं तो ध्यान रहे डॉक्टर के बताये गये दिशा-निर्देशों के अनुसार ही इसका प्रयोग करें।
  • यदि इस दवा में प्रयोग किये गये तत्वों से एलर्जी है तो आपको इस दवा के सेवन से बचना चाहिए क्योंकि आपको इससे नुकसान हो सकता है।
  • लिवर के रोगी को इस दवा के प्रयोग से बचना चाहिए।
  • यदि कोई बच्चा जन्म से ही दिल के रोग से पीड़ित है तो उसे इंटाजेसिक एमआर टैबलेट का प्रयोग नहीं करना चाहिए यह उसके लिए घातक हो सकता है।
  • यदि आपको दमे या अस्थमा का रोग है तो आपको इस दवा के प्रयोग से पहले अपने डॉक्टर से सलाह करनी चाहिए।
  • गुर्दे के रोगी को इंटेजेसिक एमआर टैबलेट का प्रयोग नहीं करना चाहिए। इसके सेवन से आपको नुकसान हो सकता है।

दोस्तो आपको यह लेख Intagesic MR Tablet in hindi कैसा लगा यदि आपको यह अच्छा लगा तो आप इसको अपने दोस्तों के साथ सोशल मिडिया में शेयर अवश्य करें। हमने इस लेख में Intagesic MR Tablet के बारे में पूरी जानकारी दी जो आपके लिए फायदेमंद ही होगी। इसमें हमने आपको — इंटाजेसिक एम आर टैबलेट क्या है,  — इंटाजेसिक एम आर टैबलेट के फायदे, Intagesic MR Tablet के प्रयोग में रखनी जाने वाली सावधानियां एवं नुकसान आदि के बारे में पूरी—पूरी जनकारी दी है जो आपको इस दवा के प्रयोग में मदद कर सकती है।

Leave a Comment

close
Copy link
Powered by Social Snap