अमरूद के पत्ते के फायदे – Guava Leaves Benefits in Hindi

अमरूद के पत्तों के फायदे – हम सभी अमरूद के फल से हमारे शरीर को होने वाले फायदों के बारे में तो जानते ही हैं। इसके आलवा क्या आप अमरूद के पत्तों के औषधीय गुणों के बारे में कुछ जानते हैं। अगर नहीं तो इस लेख में हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे। बहुत कम ही लोग जानते हैं कि अमरूद की तरह ही इसके पत्ते भी हमारे लिए फायदेमंद होते हैं।

अमरूर की पत्तियों के सेवन से कई प्रकार की स्वास्थ्य परेशानियां को ठीक किया जा सकता है। अमरूद का फल तो हमारी सेहत के लिए लाभदायक है। यह हमारी पाचन शक्ति को बढ़ाने में सहायता करता है और यह विटामिन सी का बेहतरीन स्रोत होने के साथ ही एंटीऑक्सीडेंट का अच्छा माध्यम भी है।

इसके साथ ही अमरूद की पत्तियों में फाइबर की प्रचूर मात्रा होती है और यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती हैं। हम इस लेख में इसके बारे में आपको सम्पूर्ण जानकारी देने का प्रयास करें अतः आप इस लेख को पूरा पढ़े।

Table of Contents

अमरूद के पत्ते के पौष्टिक तत्व – Guava Leaves Nutritional Value in Hindi

अमरूद के पत्ते में में प्रचूर मात्रा में पोषक तत्व पाये जाते हैं जो निम्न हैं –

  • कार्बोहाइड्रेट
  • स्टार्च
  • प्रोटीन
  • एमिनो एसिड
  • विटामिन सी एवं बी
  • कैल्शियम    
  • आयरन
  • मैग्नीशियम
  • फास्फोरस
  • पोटैशियम

अमरूद के पत्ते के फायदे – Benefits of Guava Leaves in Hindi

अमरूद के पत्तों में पाये जाने वाले पोषक तत्वों के कारण यह हमारे लिए बहुत फायदेमंद हैं। इनके प्रयोग से हमारे स्वास्थ्य तो बेहतर होता ही है साथ ही हमारी त्वचा एवं बाल भी स्वस्थ्य एवं सुन्दर हो जाते हैं। आइये इनसे होने वाले लाभों के बारे में जानते हैं।

1. वजन घटाने में अमरूद के पत्तों के लाभ –

अगर आप मोटापे व बढ़ते वजन से परेशान हैैं तो आपको अमरूद के पत्तों का प्रयोग करना चाहिए। इसमें विभिन्न प्रकार के बायोएक्टिव कंपाउंड पाये जाते हैं, जो शरीर में कार्बोहाइड्रेट के अवशोषण को रोकता है। इसके साथ ही ये शुगर और कैलोरी की मात्रा को कम करने में सहायक होते हैं। जिससे बढ़ते वजन को कम कर सकते हैं।

2. डायबिटीज में अमरूद के पत्तों के फायदे –

अमरूद की पत्तियां डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं क्योंकि इसमें फेनोलिक यौगिक पाया जाता है जो रक्त-शर्करा को कम करने में सहायक है।  अमरूद के पत्तों के सेवन से प्रोटीन ग्लाइकेशन और लिपिड को कम किया जाता है। अर्थात शरीर में मौजूद अतिरिक्त शुगर को कम करने में मदद मिलती है। इससे पता चलता है कि अमरूद के पत्तों में एंटीडायबिटिक गुण पाये जाते हैं।

3. कोलेस्ट्रॉल को कम करने में अमरूद के पत्तों के लाभ

आज कल कोलेस्ट्राॅल होना आम बात है। प्लाज्मा कोलेस्ट्राॅल का स्तर कम करने क लिए आप अमरूद के पत्तों का प्रयोग कर सकते हैं। इसमें पाये जाने वाला  हाइपरग्लाइसीमिया शरीर में शुगर की उच्च मात्रा को नियंत्रित करने में मदद करता है। जिससे कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायता मिलती है।

इसके अतिरिक्त हाई कोलेस्ट्रॉल के कारण होने वाली परेशानियों को भी कम किया जा सकता है। अमरूद के पत्तों में पाये जाने वाला हाइपोलिपिडेमिक गुण शरीर में लिपिड (एक प्रकार की वसा) की मात्रा को नियंत्रित करती है।

4. घाव को ठीक करने में अमरूद के पत्तों के फायेद

अमरूद के पत्तों के औषधीय गुणों के कारण घाव जल्दी भर जाते हैं। इसका कारण हैे इसमें पाया जाने वाला रोगाणुरोधी गुण जो शरीर में लगे घाव और इससे होने वाले इंफेक्शन से संबंधित बैक्टीरिया से लड़ने में सहायता करता है। जिससे घाव जल्द ठीक हो जाता है।

5. कैंसर में अमरूद के पत्ते

एक रिपोर्ट के अनुसार अमरूद के पत्तों में कैंसर को रोकने वाले एंटी-कैंसर गुण पाये जाते हैं। अगर इसके 100 ग्राम पत्तों से बने काढ़े को रोज पिया जाय तो पेट और फेफड़ों के कैंसर से बचने में मदद मिल सकती है। इसके अतिरिक्त अमरूद के पत्ते कैंसर के कारण डीएनए व अन्य कोशिकाओं में हो रहे नुकसान को होने से बचाने में सहायता करते हैं।

6. डेंगू बुखार में अमरूद के पत्तों के फायदे

अमरूद के पत्तों से तैयार काढ़े में क्वेरसेटिन तत्व पाया जाता है जिसके कारण डेंगू के वायरस से संक्रमण के दौरान बनने वाले एमआरएनए एंजाइम को रोकने में मदद मिलती है। इसकी कारण से अमरूद के पत्ते डेंगू के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। यह हमारे शरीर में प्लेटलेट्स बढ़ाने में सहायक होते हैं जिससे होने वाले रक्तस्राव से हमारा बचाव करते हैं। इसी कारण से बुखार में अमरूद के पत्तों का सेवन करना फायदेमंद माना जाता है।

7. पाचन में अमरूद के पत्ते –

अमरूद के पत्तो में पाये जाने वाले एंटीबैक्टीरियल और एंटीमाइक्रोबियल गुण रोगाणुओं और जीवाणुओं से हमें बचाने में मदद करती है। अमरूद की पत्तियां गैस्ट्रिक एंजाइमों का निर्माण करती है जिसके कारण पाचन की क्रिया में मदद मिलती है। इसके प्रयोग से पेट की पाचन शक्ति को बढ़ाया जा सकता है।

8. डायरिया में अमरूद के पत्तों के फायदे

एक शोध से पता चला है कि अमरूद के पत्तों में डायरिया को ठीक करने के गुण होते हैं। अमरूद के पत्तों से निकला अर्क डायरिया में फायदेमंद हो सकता है। अमरूद के पत्तों में एंटी-हेल्मिंथिक गुण पाय जाता है जिससे पेट से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने के साथ ही रक्त में हीमोग्लोबिन स्तर को बढ़ाने में सहायकता करता है। इसके आलवा अमरूद के पत्तों का अर्क ई.-कोली बैक्टीरिया के कारण होने वाले दस्त में तो फायदेमंद है ही साथ ही इससे होने वाली अन्य स्वास्थ्य दिक्कतों को भी नियंत्रित करने में मदद करता है।

9. दांत दर्द, मसूड़ों एवं गले की खराश में अमरूद के पत्तों के फायदे

अमरूद के पत्तों में एनाल्जेसिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी एवं एंटी-माइक्रोबियल गुणों का भण्डार होता है जिसके कारण से हमें हो रहे दांतों के दर्द को ठीक करने में मदद मिलती है। इसके साथ ही जबड़े में आई सूजन को भी यह ठीक करता हे। इसका काड़ा या चाय गले की खराश को भी ठीक करता है।

10. एलर्जी में अमरूद के पत्तों के लाभ

अमरूद के पत्तों में एंटी-एलर्जिक गुण होते हैं जिससे यह शरीर में होने वाली एलर्जी को नियंत्रित करने में सहायता करती है। इन पत्तों में पाया जाने वाले एंटी-एलर्जिक गुण एंटी इंफ्लामेटरी साइटोकाइन को बनने से रोकता है जो एक प्रकार का प्रोटीन होता है। जिससे शरीर में हो रही एलर्जी को रोका जा सकता है।

11. स्पर्म की संख्या बढ़ाने में अमरूद के पत्तों के लाभ

अमरूद की पत्तियों के प्रयोग से जनन अंग में स्पर्मो की संख्या व गुणवत्ता को बढ़ाया जा सकता है। इसके अलावा यह प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में भी सक्षम हैं। अमरूद के पत्तों में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाया जाता है जो स्पर्म (शुक्राणु) की संख्या व उनकी गुणवत्ता पर बेहतर प्रभाव डालते हैं, जिससे पुरुषों की प्रजनन क्षमता बढ़ाने में सहायक हो सकती है।

12. स्वस्थ हृदय के लिए अमरूद के पत्ते

दिल को स्वस्थ्य रखने लिए पोटैशियम और डायट्री फाइबर फायदेमंद होते हैं जो अमरूद के पत्तों में प्रचूर मात्रा में पाये जाते हैं। अमरूद के पत्तों में पाया जाने वाला फाइटोकेमिकल्स तत्व बेड कोलेस्टॉल को कम करने में सहायता करता है। साथ ही यह ब्लड प्रेशर नियंत्रित करता है। इसकी कारण से दिल के रोगियों को अमरूद के पत्तों को खाने की सलाह दी जाती है।

13. अच्छी नींद के लिए अमरूद के पत्ते के लाभ

बहुत सारे लाभों के अलावा अमरूद के पत्तों के प्रयोग से हमें नींद अच्छी भी आती है। सोने के बाद अगर हमें बार- बार पेशाब जाना पड़े तो नींद खराब हो जाती है। अगर आप अमरूद के पत्तों की चाय बनाकर पीते हैं तो इससे बार-बार पेशाब नहीं जाना पड़ता है और रात को अच्छी नीद आती है।

14. मुंहासे और काले धब्बे के लिए अमरूर के पत्ते

अमरूद के पत्तों में प्रचूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है तो त्वचा के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इसकी कारण से त्वचा पर होने वाले मुंहासे और काले धब्बों के लिए अमरूद के पत्तों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके प्रयोग के लिए अमरूद के 10 पत्तों को पानी के साथ पीस लें और इस पेस्ट को मुंह में लगा लें। और पेस्ट सूखने में मुंह को धो लें। प्रतिदिन इसे लगाने पर मंुहासों व काले धब्बों में लाभ होगा।

15. एंटी-एजिंग में अमरूद के पत्तों के लाभ

अमरूद के पत्तों को स्किन टॉनिक के रूप में प्रयोग किया जाता रहा है। इसके प्रयोग से  त्वचा से जुड़ी परेशानियों में मदद मिलती है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो मुक्त कणों से त्वचा की रक्षा करते हैं। इससे समय पूर्व आपकी त्वचा पर झुर्रियां नहीं आती हैं। इसके लिए अमरूद के पत्तों को पेस्ट को चेहरे पर लगाना चाहिए। इससे आपकेा फायदा होगा।

16. झड़ते बालों के लिए अमरूद के पत्तों के फायदे

अगर आपको बाल झड़ रहे हैं तो आपको अमरूद के पत्तों का प्रयोग करना चाहिए यह आपकी मदद कर सकते हैं। इसके काढ़े का प्रयोग बालों को झड़ने से रोकने व बालों को बढ़ाने में किया जाता है। अमरूद के कुछ पत्तों को पानी के साथ उबाल कर काढ़ा बना लें फिर इसको छान कर इससे अपने बालों की मालिस करनी चाहिए। उसके कुछ समय बाद बालों को साफ पानी से धो लें ऐसा नियमित करने से आपके बाल मजबूत और सुन्दर हो जायेंगे।

अमरूद के पत्ते का उपयोग – How to Use Guava Leaves in Hindi

अमरूद के पत्ते का प्रयोग शरीर को स्वस्थ्य रखने के साथ ही त्वचा और बालों को सुन्दर बनाने के लिए किया जा सकता है। हमने उपर बहुत सारे फायदों के बारे में बताया है अब इसका उपयोग कैसे कर सकते हैं इस पर बात करेंगे –

  • अमरूद के पत्ते का काढ़ा बनाकर पीया जा सकता है।
  • अमरूद के पत्तों को चाय बना कर प्रयोग की जा सकती है।
  • अमरूद के पत्तों का पेस्ट बनकर त्वचा और बालों में लगा सकते हैं।
  • अमरूद के पत्तों को पकाने के बाद उसका पेस्ट बनाकर फेस टॉनिक की तरह प्रयोग किया जा सकता है।

अमरूद के पत्ते से होने वाले नुकसान – Side Effects of Guava Leaves in Hindi

अमरूद के पत्ते औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं। यह हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद है और इससे होने वाले नुकसान बहुत कम। इसके अधिक सेवन से बचना चाहिए यह हमारे लिए हानिकारक हो सकता है।

अगर आपको उच्च रक्त चाप है तो आपको अमरूद के पत्तों को सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें हाइपोग्लाइसेमिक गुण पाया जाता है जो उच्च रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित करता है। अधिक सेवन से रक्त चाप अधिक कम हो सकता है। इसकी कारण से अधिक सेवन करने से आपको कमजोरी महसूस हा सकती है।

गर्भवती महिलाओं को इसके प्रयोग से पहले डाक्टर से सलाह करनी चाहिए।

इसके बहुत अधिक नुकसान नहीं हैं मगर फिर भी सावधानी से इसका प्रयोग करना ही ठीक होगा। अधिक जानकारी के लिए अपने डाक्टर से सलाह अवश्य करें।

Leave a Comment

Copy link
Powered by Social Snap