चने खाने के फायदे-Chana khane ke fayde in hindi

Chana khane ke fayde in hindi चना बहुत ही पौष्टिक एवं हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद भोज्य पदार्थ है। इसका प्रयोग हमारे देश में प्रमुख खाद्यान के रूप में किया जाता है। 

क्‍या आपको चने से होने वाले फायदों के बारे में पता है। चने को काले चने के नाम से भी जाना जाता है। चने की बहुत सी प्रजातियां पाई जाती है।

सुबह खाली पेट अंकुरित चने खाने की अक्सर सलाह दी जाती है क्योंकि इस छोटे से चने में हमारे पाचन तंत्र को मजबूत करने के साथ ही कैंसर जैसी खतरनाक बिमारी से भी बचाव करने में मदद कर सकता है।

इतना ही नहीं इसके नियमित सेवन से हृदय से सम्बन्धित बिमारी, कालेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने, वजन कम करने, मधुमेह को ठीक करने जैसी अन्य बिमारियों को ठीक करने में मदद मिलती हैं

इस लेख में हम चने से होने वाले फायदों के सा​थ ही इसके नुकसान के बारे में भी जानेंगे।

Table of Contents

चना क्या है? Chana (Gram) in Hindi

चने को पूरी दुनिया में उगाया जाता है लेकिन भारत में प्रमुख दलहनी (Pulse) फसल के रूप में इसका उत्पादन सबसे अधिक होता है। यह कई औषधीय गुणों से युक्त एक खाद्य पदार्थ है।

चने का वैज्ञानिक नाम जिसका वैज्ञानिक नाम साइसर एरीटिनम Cicer Aestivum है।

इसमें प्रचूर मात्रा में  कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फाइबर व विटामिन ए व बी सहित कई और पोषक तत्व पाये जाते हैं।

प्रमुख रूप से चने दो प्रकार के होते हैं। पहला देसी चना, यह आकार में छोटा और इसका रंग भूरा और काला या गहरा भूरा होता है।

दूसरा चना काबुली चना, यह चना देसी चने की अपेक्षा आकार में बड़ा होता है और इसका रंग हल्का बादामी होता है। इनका उत्पादन अफ्गानिस्तान, दक्षिणी यूरोप, उत्तरी अफ़्रीका एवं चिली में किया जाता है। चने का सेवन कई प्रकार के किया जा सकता है।

चने के पोषक तत्व  Chane Ke Poshak Tatva in Hindi

चना ऐसा खाद्यान है जिससे हमें अपार ऊर्जा तो मिलती ही है साथ ही यह हमारे स्वास्थ्य लाभ के लिए भी फायदेमंद है। इसमें प्रचूर मात्रा में पोषक तत्व पाये जाते हैं। जिसको हम नीचे दी गई टेबल में 100 ग्राम मात्रा के अनुसार बताने का प्रयास कर रहे हैं :

पोषकतत्व  मात्रा ( प्रति 100 ग्राम)
ऊर्जा (kcal)                                     164
पानी (ग्राम)                                    60.20
कार्बोहाइड्रेट (ग्राम)                           27.42
प्रोटीन (ग्राम)                                      8.86
फाइबर (ग्राम)                                     7.6
कुल फैट(ग्राम)                                    2.60
कुल शुगर (ग्राम)                                4.80

विटामिन

विटामिन ए (mg)        1
विटामिन बी—6 (mg)                       0.138
विटामिन ए (IU)                   27
विटामिन सी (mg)                    1.30
विटामिन ई (mg)                      0.35
विटामिन K1 (mg)                      4.01
फोलेट (mg)                           172
थियामिन (mg)                           0.116
नियासिन (mg)                           0.527
राइबोफ्लेविन (mg)                             0.062

मिनरल्स

कैल्शियम (mg)  49
सोडियम (mg)   7
आयरन (mg)    2.90
जिंक (mg)        1.52
फास्फोरस (mg)   168
पोटैशियम (mg)       290
मैग्नीशियम (mg)   48

चने खाने के फायदे Chana khane ke fayde in Hindi

वजन कम करने में चने खाने के फायदे  – Chana Benefits For Weight Loss

बढ़ते वजन को कम करने के लिए फाइबर युक्त भोज्य पदार्थ फायदेमंद होता है। इसलिए हमारे नियमित भोजन में फाइबर का होना आवश्‍यक है।

चने में अघुलनशील व घुलनशील फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है।

अघुलनशील फाइबर पाचन में होने वाली परेशानियां व कब्ज को होने से रोकता वहीं घुलनशील फाइबर पाचन तंत्र को मजबूत करता है।

भोज्य पदार्थ में फाइबर उच्‍च मात्रा होने से भूख को नियंत्रित करना आसान हो जाता है। इससे बार—बार भूख लगने का पता नहीं चलता है और हमारे खाने में में भी कमी आती है।

अत: आप वजन घटाने के घरेलू उपचार के रूप में चने को अपने दैनिक भोजन में शामिल कर सकते हैं।

इसके लिए आप चनों को उबाल कर खा सकते हैं। इससे हमें भूख कम लगती है और शरीर में मौजूद अतिरिक्त कैलोरी का उपयोग हो जाता है।

(और अधिक पढ़े …. वजन कम करने के उपाय)

दिल के लिए चने के लाभ – Chana Benefits For Heart in Hindi

अगर आपको अपने को स्वस्थ्य रखना है तो अपने दिल का ध्यान तो रखना ही पढ़ेगा। क्योंकि हृदय हमारे शरीर का इंजन है जो हमारे पूरे शरीर को चलाता है।

अगर आपको अपने हृदय को स्वस्थ्य और मजबूत बनाना है तो इसके लिए आपको चने को अपने दैनिक आहार में शामिल करना चाहिए।

क्योंकि इसमें एंटीऑक्‍सीडेंट, एंथोसाइनिन, डेल्फिंडिन (delphindin), साइनाइडिन (cyanidin), पेटुनिडिन (petunidin) व फाइटोन्‍यूट्रिएंट्स (phytonutrients) की प्रचूर मात्रा पाई जाती है।

ये सभी पोषक तत्व हमारे हृदय के लिए फायदेमंद होते हैं। यह हमारी रक्तवाहिकाओं को तो स्वस्थ्य रखते ही है साथ ही आक्सीडेटिव तनाव से भी बचाते हैं। जिससे हृदय की बिमारी होने खतरा नहीं रहता है।

रक्त में प्लाक गठन, रक्त के थक्के होने से दिल के दौरे व स्ट्रोक होने का खतरा बना रहता है। मगर चने में मैग्नीशियम व फोलेट की अच्छी मात्रा पाई जाती है।

फोलेट होमोसिस्टीन के स्तर को कम करके दिल के दौरे व स्ट्रोक के खतरे को कम कर देता है।

पाचन शक्ति बढ़ाने में चने के फायदे  – Chana (Gram) Benefits For For Digestion in Hindi

वर्तमान समय में हर कोई पाचन की समस्याओं से परेशान है। पाचन स्वास्थ्य के लिए चना बहुत लाभदायक हो सकता है। इसमें फाइबर की उच्च मात्रा पाई जाती है।

जो पाचन तंत्र को मजबूत करने में एक अहम भूमिका निभाते हैं। चने के प्रयोग से पेट संबंधी से जुड़ी समस्याएं जैसे कब्ज, गैस, डायरिया व मल त्यागने में होने वाली परेशानी या ठोस मल आदि को ठीक करने में मदद करता है। 

इसके लिए आपको अंकुरित चनो का प्रयोग रोज सुबह खाली पेट करना चाहिए।

यदि आपको अक्सर दस्त की समस्या रहती है तो आपको चने का प्रयोग करना चाहिए इसके लिए आप चने की दो मुठ्ठी मात्रा को 500 मिलीलीटर पानी में रात भर के लिए भीगा दें और सुबह खाली पेट इस पानी को पी लें इसके सेवन से आपको दस्त की समस्या से मुक्ति मिलेगी।

मधुमेह को दूर करने में चना के फायदे – Chana Benefits For Diabetes in Hindi

शरीर में रक्त शर्करा के बढ़ते स्तर या मधुमेह को नियंत्रित करने में चना महत्वपूर्ण भमिका निभा सकता है।

इसमें पाये जाने वाली फाइबर की उच्च टाइप 1 मधुमेह को नियंत्रित कर देती है इससे रक्त में ग्लूकोज का स्तर कम हो जाता है। इसकी प्रकार फाइबर की उच्च मात्रा टाइप 2 मधुमेह के लिए भी फायदेमंद हैं।

इसके सेवन से रक्त शर्करा, इंसुलिन और लिपिड की मात्रा में सुधार कर सकता है। इतना ही नहीं इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम पाई जाती है जिससे इसके पचने की गति बहुत कम होत है।

और शरीर में शुगर की मात्रा नियंत्रित रहती है।

कैंसर के उपचार में चने से लाभ – Gram (Chana) Benefits For Cancer in Hindi

एक शोध के अनुसार चने में कुछ विशिष्ट यौगिक पाये जाते है जो शरीर से एंटी कैंसर कोशिकाओं को हटाने में सहायता करते हैं।

चने में पाया जाने वाला घुलनशील फाइबर शरीर में कोलन तक पहुंचता है जहां बैक्टीरिया द्वारा यह शॅर्ट चेन फैटी एसिड बदल दिया जाता है जिसे सीधे कोलन कोशिकाये अवशोषित करती है और इसका प्रयोग उर्जा के लिए किया जाता है।

जिससे यह कोलन कोशिकाओं को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करता है और साथ ही कोलन कैंसर के खतरे को भी कम करता है।

इतना ही नहीं यह शरीर में पैदा होने वाले अन्य कैंसर व ट्यूमर से भी हमारी रक्षा करने में मदद करता है।  रहने में सक्षम बनाता है और विशेष रूप से कोलोरेक्टल कैंसर (कोलन कैंसर) के खतरे को कम करता है।

इस तरह से यह विभिन्‍न प्रकार के ट्यूमर और कैंसर से हमारी रक्षा करते हैं।

कोलेस्ट्रॉल कम करने में चना का उपयोग  – Chana (Gram) Benefits For Cholesterol in Hindi

शरीर में बढ़ता कोलेस्‍ट्रॉल हृदय से सम्बन्धित बिमारियों के जन्म का कारण बनता है।

इससे उच्च   रक्‍तचाप और हृदय आघात की सम्भावना रहती है। इससे बचने के लिए आप चने का प्रयोग कर सकते हैं।

इसमें घुलनशील फाइबर की उच्च मात्रा पाई जाती है जो पित्‍त एसिड को संभाले रखता है और उन्हें शरीर द्वारा अवशोषित होने से रोकने में मदद करता है।

इस तरह यह कोलेसट्रॉल के स्‍तर को कम करने में मदद करता है।

त्वचा के लिए चने के फायदे  – Chana Benefits For Skin in Hindi

यदि आप अपनी त्वचा को खुबशुरत के साथ ही स्वस्थ्य रखना चाहती हैं तो आपको अपने नियमित भोजन में चने को जगह देनी चाहिए।  क्योंकि इसमें पाये जाने वाले पोषक तत्व त्वचा के लिए फायदेमंद होते हैं।

इसमें कार्बोहाइड्रेट, कॉपर, आयरन, फाइबर और प्रोटीन की प्रचूर मात्रा पाई जाती है। चनों का प्रयोग मुंहासों व अन्‍य त्‍वचा संक्रमण को ठीक करने के लिए किया जाता है।

इसके लिए चने को पीसकर इसके पाउडर को दूध में मिलाकर चेहरे में लगाने से लाभ होता है।

इससे चेहरे के मुंहासों से तो मुक्ति मिलती ही है साथ ही त्वचा भी सुन्दर व आकर्षक दिखने लगती है।

(और अधिक पढ़े …. त्वचा को सुन्दर बनाने के उपाय)

बालों के लिए चने के फायदे  – Gram (Chana) Benefits For Hair in Hindi

प्रदूषित और खराब जीवनशैली के कारण हमारे बाल क्षतिग्रस्त हो जाते हैं। इतना ही नहीं प्रोटीन की कमी के कारण भी बाल पतले होकर टूटने लगते हैं।

यदि आप अपने बालों को स्‍वस्थ्‍य और मजबूत बनाना चाहते हैं तो आपको चने का उपयोग करना चाहिए। यह बालों के विकास व उन्हें मजबूत करने में मदद कर सकता है।

चने में प्रोटीन और आयरन की प्रचूर मात्रा पाई जाती है जो बालों को झड़ने से रोकता है। इतना ही नहीं इसमें प्रचूर मात्रा में विटामिन-ए, बी, और ई पाया जाता है जो स्कैल्प और बालों को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

ऊर्जा बढ़ाने में चने के फायदे  – Chana Benefits For Boost Energy in Hindi

शरीर को ऊर्जा के लिए प्रोटीन की आवश्यकता होती है। और तुरन्त ऊर्जा प्राप्‍त करने के लिए चने सबसे अधिक महत्वूर्ण खाद्यान्न है। इसलिए इसका हमारे जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है।

चने में प्रोटीन की प्रचूर मात्रा पाई जाती है जो हमारे शरीर को प्रर्याप्त मात्रा में ऊर्जा प्रदान करता है।

इसके अतिरिक्त चने में मेथियोनीन नामक तत्व भी पाया जाता है जो कोशिकाओं के विकास के लिए महत्वपूर्ण होता है।

इसके लिए चनों को रात भर भीगने के लिए छोड़ देना चाहिए और सुबह नाश्ते में इनका सेवन आपको दिनभर उर्जा से भरपूर रखेगा।

एनीमिया में चने के फायदे – Chana (Gram) Benefits For Anaemia in Hindi

शरीर में होने वाली खून की कमी को ही एनीमिया रोग कहा जाता है। इसका मुख्य कारण है शरीर में आयरन की कमी हो जाना।

इसके लिए आप चने का प्रयोग कर सकते हैं। इसमें प्रचूर मात्रा में आयरन पाया जाता है जो शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को बनाये रखने में मदद करता है।

अत: आपको अपने नियमित भोजन में चनो का प्रयोग करना चाहिए। इसके लिए आप चनों को पानी में रातभर के लिए भीगाकर छोड़ दें और सुबह इन भीगे चनों का सेवन खाली पट करें।

इसके ​अति​रिक्त आप चनों को भूनकर या इसमतें शहर ​को मिलाकर भी खा सकते हैं।

नियमि रूप से चने का प्रयोग करने से आपको खून की कमी नहीं हो पायेगी और एनीमिया रोग से निजात मिलेगी।

महिलाओं के लिए चने के फायदे  – Chana Benefits For Women in Hindi

चना में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाये जाते हैं जो बढ़ती उम्र में प्रजनन क्षमता के कम होना अर्थात रजोनिवृत्ति (बढ़ती उम्र में प्रजनन हार्मोन का न बनना) के नकारात्मक लक्षणों को ठीक करने का एक घरेजू व प्राकृतिक उपाय हो सकता है।

एक अध्ययन के अनुसार चने में एस्ट्रोजेनिक गुणों पाया जाता है जो रजोनिवृत्ति और ऑस्टियोपोरोसिस (हड्डियों का कमजोर होने) के इलाज में सहायक होता है।

इसके लिए ब्राउन शुगर व देसी घी के साथ भुने हुए चने के प्रयोग से ल्‍यूकोर्यिया (सफ़ेद पानी आना) को ठीक किया जा सकता है। चना महिलाओं की कई बिमारियों में लाभदायक हो सकता है।

चने खाने के नुकसान – Chana khane ke nuksan in Hindi

चना हमें विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाता है मगर साथ ही इसके कुछ दुष्‍प्रभाव भी हो सकते हैं। अगर आप उचित मात्रा में इसका नियमित सेवन करें तो यह बहुत ही फायदेमंद होता है।

इसके अधिक सेवन से निम्न परेशानियां हो सकती है।

चने को अधिक खाने से पेट की समस्याएं हो सकती हैं। इसमें पाया जाने वाला फाइबर ज्यादा खाने से पेट में गैस,सूजन व ऐंठन कर सकता है। किसी—किसी को इसके प्रयोग से एजर्ली हो सकती है।

इससे एलर्जिक रायनाइटिस (बंद नाक) या एनाफिलेक्सिस हो सकता है।

एनाफिलेक्सिस ऐसी एलर्जिक बिमारी है जिससे जान भी जा सकती हैं इसकी वजह से नाक व होठों में सूजन हो जाती है। पेट में दर्द से साथ उल्टी होती है।

चने हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद है मगर यह ध्यान देना आवश्यक है कि यह हमारे लिए किसी प्रकार का नुकसान न करें अत: इसका प्रयोग उचित मात्रा में ही करना चाहिए और अगर आपको इससे एलर्जि होती है तो डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका प्रयोग करें।

Leave a Comment

Copy link