भांग के बीज के फायदे और नुकसान – Hemp Seeds In Hindi

Hemp seeds Hindi– भांग के बीज काफी प्रयोग किये जाते रहे हैं क्योंकि हमारे स्वास्थ्य के लिए भांग के बीज काफी फायदेमंद हैं।

भांग के पौधे व उससे प्राप्त होने वाले बीजों को एक नशीले पौधे व पदार्थो के रूप में भी जाना जाता है, परन्तु इसका अगर हम सीमित मात्रा में सेवन करें तो यह हमारे लिए अत्यधिक फायदेमंद दवा के रूप में कार्य करता है।

भांग के बीज भांग के पेड़ से प्राप्त होते हैं। भांग का पेड़ 2 से लेकर 7 फिट तक का होता है। इसकी पत्तियों से लोग नशीला पदार्थ भी बनाते हैं जिसे मरीजुआना या कैनबीस भी कहते हैं।

भांग के बीजों में टीएचसी के छोटे-छोटे रेशे पाये जाते हैं जो मरीजुआना का सेवन करने वालों को नशा देता है। इतना ही नहीं भांग के बीजों में पोषण तत्व भी पाये जाते हैं।

भांग के बीजों में हमारे शरीर के स्वास्थ्य के लिए अतिआवश्यक 9 प्राकर के अमीनो एसिड पाये जाते हैं। जो हमें प्राकृतिक रूप से नहीं मिल पाते हैं।

इनके अलावा भांग के बीजों में प्रोटीन की भी अत्यधिक मात्रा पाई जाती है।

भांग के बीजों में ओमेगा-3 फैटी एसिड और ओमेगा-6 फैटी एसिड की भी प्रचुर मात्रा पाई जाती है जो संतुलित मात्रा के रूप में इसमें उपस्थित होता है।

यह हमारे शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक होता है। इसमें कैंसर और ओस्टियोपोरोसिस जैसी गंभीर बीमारियों को से लड़ने की क्षमता होती है।

भांग के बीजों में प्रचूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो हमारे शरीर में हो रहे कब्ज और दस्त को भी ठीक करने में मदद करता है

Bhang Ke Beej In Hindi

साथ ही इसमें विटामिन ई के साथ फॉस्फोरस, पोटैशियम, सोडियम, मैग्नेशियम, सल्फर, कैल्शियम, आयरन और जिंक जैसे खनिज पदार्थ भी मौजूद होते है।

आगे हम इस लेख में भांग के बीजों से होने वाले फायदों के साथ—साथ इससे होने वाले नुकसान को भी जानेंगे।

Table of Contents

भांग का बीज क्या है?

भांग के बीज हमें भांग के पौधे से प्राप्त होते हैं और इसी से भांग का तेल भी प्राप्त किया जाता है।

भांग के बीज व भांग के बीज का तेल औषधीय गुणों से युक्त होता है। अगर संतुलित विधि से इन दोनों का उपयोग किया जाय तो यह कई प्राकर के शारीरिक प्रदान कर सकता है।

भांग के बीज व इसके तेल में पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड, प्रोटीन, कैनाबिनोइड विटामिन-ई और विभिन्न अन्य प्रकार के पोषक तत्व भी होते हैं, जो इसे बहुत ही गुणकारी बनाते हैं।

भांग के बीज में पाये जाने वाले पोषक तत्व – Hemp seeds Nutritional Value in Hindi

भांग में विभिन्न प्रकार के तत्व पाये जाते हैं जिन्हें हम प्रति 100 ग्राम में दर्शाने की कोशिशि करेंगे जो निम्न हैं-

पौष्टिक तत्व प्रति 100 ग्राम प्रोटीन
लिपिड (फैट) 33.33 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट 50 ग्राम
पोटैशियम 6.67 ग्राम
फैटी एसिड 800 मिलीग्राम
फाइबर 3.33 ग्राम
आयरन 3.3 ग्राम
एनर्जी 9 मिलीग्राम

केसीएल भांग के बीज के फायदे – Bhang ke beej ke fayde in Hindi

भांग के बीजों के हमारे लिए कई फायदे होते हैं जिनमें से कुछ को हम इस लेख में आपको बताने जा रहे हैं —

भांग बीज के हृदय स्वास्थ्य के लिए फायदे – Hemp seeds for Cardiovascular Health in Hindi

भांग के बीजों में ओमेगा 3 फैटी एसिड और ओमेगा 6 फैटी एसिड प्रचूर मात्रा में पाया जाता है जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने व हृदय को स्वस्थ रखने में सहायता करता हैं।

भांग बीजों में पाये जाने वाला फैटी एसिड सूजन (swelling) को कम करने के लिए लाभकारी होता है।

सूजर हमारे शरीर में पाये जाने वाले खराब रक्त परिसंचरण और उच्च रक्तचाप का कारण पैदा होता है।

इस प्रकार भांग के बीज स्ट्रोक और दिल के दौरे जैसी विभिन्न हृदय संबंधी बिमारियों व उसके खतरों को कम करने में मदद कर सकता है।

आप अपने हृदय को स्वस्थ्य एवं इसके खतरों से बचने के लिए भांग के बीजों का प्रयोग कर सकते हैं परन्तु ध्यान रहे इसका प्रयोग आपको एक सन्तुलित मात्रा में ही करना चाहिए।

भांग बीज के मस्तिष्क के लिए फायदे – Bhang Ke Beej for Brain Health in Hindi

वर्तमान समय में काम का इतना प्रेसर है कि आये दिन हमें मानसिक तनाव हो ही जाता है। इससे हमारे मस्तिष्क में भी प्रभाव पड़ता है।

अत: अपने मस्तिष्क को स्वस्थ्य बनाए रखने के लिए हम भांग के बीजों का प्रयोग कर सकते हैं।

इनमें मौजूद फैटी एसिड पार्किंसंस और अल्जाइमर रोग (Parkinson’s Alzheimer’s Disease) जैसी मस्तिष्क की परेशानियों को कम करने में मदद करते हैं।

इसके अलावा भांग के बीज मस्तिष्क के कार्य करने की क्षमता व इसकी याददाश्त को भी बढ़ाते हैं जिससे आपको अवसाद (depression) से मुक्ति मिल सकती है।

भांग के बीज का तेल त्वचा के लिए फायदेमंद – Hemp seed oil for Skin in Hindi

बढ़ते प्रदूषण से रूखी होती त्वचा को को स्वस्थ्य व चमकदार बनाने के लिए हम कई प्रकार की एलोपैथिक दवाईयों का प्रयोग तो करते हैं पर इसका कुछ जयादा लाभ होता नहीं दिखता है पर इसके लिए हम भांग बीज के तेल का प्रयोग कर सकते है।

भांग के बीज का तेल हमारी त्वचा के लिए भी लाभकारी होता है।

इसके प्रयोग से हमारी त्वचा नरम व चमकदार तो होती ही है साथ ही सूर्य की हानिकारक किरणों से हमारी त्वचा को होने वाले नुकसान से भी बचाती है व स्किन कैंसर के होने के खतरे को भी कम करती है।

भांग के बीज शुष्क त्वचा, खुजली और सोरायसिस जैसी त्वचा सम्बन्धी बिमारियों से मुक्ति दिलाने में मदद करते हैं।

भांग का बीज शुगर में फायदेमंद – Hemp seed Benefits for Diabetes in Hindi

हमारे शरीर में बढ़ते रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित रखने के लिए भांग के बीजों का प्रयोग किया जा सकता है। इससे मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

भांग के बीजों में ओमेगा 3 पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड (Omega-3 PUFA) पाया जाता है जो स्वस्थ्य वसा और ग्लूकोज को अवशोषित (absorbed) करने में सहायता करता है।

जिससे मधुमेय के टाइप 1 डायबिटीज को कम करने में मदद होती है।

अगर आपको भी शुगर या मधुमेह का रोग है तो आपको भांग के बीजों का प्रयोग संतुलित मात्रा में करना चाहिए परन्तु इसके साथ ही अपने डॉक्टर की सलाह भी लेनी चाहिए।

मस्तिष्क के लिए भांग के लिए फायदे (Brain health) —

मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ्‍य बनाए रखने के लिए भांग के बीजों फायदेेमंद हो सकते हैं। भांग में पाया जाने वाला फैटी एसिड पार्किंसंस और अल्‍जाइमर जैसे रोग जो मस्तिष्क को कमजोर करते हैं उनसे लड़ने में मदद करता है। भांग के बीज इसके अलावा दिमाग की कार्य क्षमता और याददाश्त को बढ़ाने में भी मददगार है। इसके प्रयोग से अवसाद व चिंता से मुक्ति मिल सकती है।

कोलोरेक्‍टल कैंसर में भांग बीज के फायदे –

हेम्प सीड पाचन शक्ति को तो बढ़ाता ही है साथ ही इसके प्रयोग से कोलोरेक्‍टल कैंसर (colorectal cancer) के खतरों को कम किया जा सकता है। कैंसर के इलाज में भांग के बीज उपयोगी हो सकते हैं। इसमें पाया जाने वाला फाइबर कार्सिनो‍जेनिक सेल के खतरे को कम कर सकता है।

भांग में पाया जाने वाला कैनाबीनोइड (cannabinoids) कैंसर की कोशिकाओं के विकास को नियंत्रित करने में मदद करता है। इसके सबसे ​अधिक फायदे फेफड़ों के कैंसर को रोकने में होते हैं।

अनिद्रा के लिए भांग बीज के फायदे —

अगर आपको अनिद्रा की समस्या है तो तो आपको भांग के बीजों का प्रयोग करना चाहिए यह आपके लिए फायदेमंद हो सकती है। भांग के बीज में पाये जाने वाले खनिज पदार्थ के साथ ही इसमें पाया जाने वाला मैग्‍नीशियम अनिद्रा के उपचार में लाभदायक होता है।

मैग्नीशियम एंजाइमों और हार्मोन पर एक अच्छा प्रभाव डालता है जिससे हमें अच्छी नींद आती है और अनिद्रा की परेशानी से छुटकारा मिलता

हार्मोन्स संतुलन में हेम्‍प बीज के फायदे

भांग बीज का प्रयोग करने से थायराइड ग्रंथि और अग्‍नाशय द्वारा हार्मोन को संतुलित किया जा सकता है क्‍योंकि इसमे गामा लिनोलेनिक एसिड पाया जाता है इसके अतिरिक्त यह हार्मोन असंतुलन के लक्षणों को भी कम कर सकते हैं।

हड्डियों को मजबूत करने में भांग के बीज फायदे —

भांग के बीज के में प्रोटीन के साथ ही कैल्शियम भी भरपूर पाया जाता है। हड्डियों को मजबूत करने के लिए भांग के बीज में पाये जाने वाले कैल्शियम फायदेमंद हो सकता है। कैल्शियम की सही मात्रा का प्रयोग करने से हड्डियां तो मजबूत होती हैं साथ ही बढ़ी उम्र में होने वाले जोड़ों के दर्द में भी लाभ होता है।

प्रोटीन के लिए भांग के बीज के फायदे —

भांग के बीज में प्रचूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। शरीर में हो रही प्रोटीन की कमी को अगर सही करना है तोे आपको अपनी डाइट में प्रोटीन को शामिल करना चाहिए। तो आपको भांग के बीज का प्रयोग करना चाहिए। लेकिन ध्यान रखना चाहिए इसकी अधिक मात्रा न लें इससकी अधिक मात्रा के सेवन से आपको नुकसान भी हो कतसा है।

डायबिटीज में भांग के बीज के तेल के फायदे —

अगर आप डायबिटीक हैं तो आपको इसके लिए भांग के बीजों (hemp seed oil) का प्रयोग करना चाहिए। इससे आपको बहुत फायदा हो सकता है। भांग के बीजों से तैयार तेल में ओमेगा-3 पॉलीअमसैचुरेटेड फैटी एसिड पाया जाता है यह तत्व डायबिटीज होने के असर को कम करने में मदद कर सकता है।

भांग के बीज का पाचन के लिए फायदा – Bhang Beej for Digestive Problems in Hindi

घुलनशील फाइबर हमारे पाचन तंत्र के लिए लाभदायक होता है जो हमारे शरीर में से हानिकारक पदार्थो को दूर करने में मदद करता है।

भांग के बीज में उच्च मात्रा में घुलनशील फाइबर पाया जाता है।

जो पाचन सम्बन्धी समस्त समस्याओं के निराकरा के लिए जिम्मेदार होता है।

यदि आपको भी पाचन सम्बन्धी कोई परेशानी है तो भांग के बीजों का प्रयोग आपके लिए फायदेमंद होगा।

भांग के बीज के फायदे वजन कम करने में – Hemp seed for Weight Loss in Hindi

वजन कम करने के लिए हमें अपने खान—पान पर नियंत्रण करना होता है।

इसके लिए भूख को नियंत्रित करने के लिए भांग के बीजों से अच्छा कोई अन्य नहीं हो सकता है। क्योंकि भूख को शांत करने में भांग के बीज की अहम भूमिका होती है।

भांग के बीजों की कुछ मात्रा ही अपने नियमित भोजन में लें तो इससे आपको अपने भोजन की मात्रा में कमी होती दिखेगी।

कम भोजन करना भी वजन को कम रखने के एक उपाय के रूप में देखा जाता है।

भांग बीज रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए — Bhang Beej For immunity in Hindi

अगर किसी व्यक्ति की रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो, तो उसे कई प्रकार की बिमारियां जकड़ लेती हैं।

ऐसी अवस्था में भांग बीज में पाए मिलने वाला कैनबिनोइड्स पदार्थ जिसमें वैज्ञानिक शोध किए गए हैं में यह परिणाम सामने आया है कि कैनबिनोइड्स कई प्रकार की प्रतिरक्षा कोशिकाओं की कार्यप्रणाली को मजबूती देने का काम कर सकता है।

फिर भी इसके प्रयोग से पहल अपने डॉक्टर की सलाह ले लेनी चाहिए।

भांग के बीज का उपयोग – How to Use Hemp Seeds in Hindi

आगे हम यह जानेंगे की भाग का उपयोग किसी प्रकार किया जा सकता है।

भांग के बीजों को मिस्की में अच्छी तरह पीस कर उसका पाउडर बना लेना चाहिए।

इस पाउडर का प्रयोग हम दलिया या दही के साथ कर सकते हैं।

भांग बीज को स्मूदी में डालकर भी खाया जा सकता है।

भांग बीज को सलाद में मिलाकर भी प्रयोग कर सकते हैं।

भांग के बीज का दूध बनाकर भी इसका प्रयोग किया जा सकता है।

पर ध्यान देने वाली बात यह है कि हमें इसके प्रयोग से पहल इसकी मात्रा और इसका प्रयोग कैसे किया जाय इसक बारे में अपने डॉक्टर से सलाह कर लेनी चाहिए।

क्योंकि अनियंत्रित रूप से इसका सेवन करना हमारे स्वास्य के लिए हानीकारक हो सकता है।

भांग बीज के नुकसान – Bhang Beej ke Nuksan in Hindi

भांग बीज में स्वस्थ्य फैटी एसिड और अधिक मात्रा में प्रोटीन होने के कारण इसको आहार के पूरक के रूप में उपयोग किय जाता रहा है।

वैसे तो इसका उपयोग सुरक्षिपत होता है पर कुछ व्यक्तियों के लिए हानिकारण भी हो सकता है।

इनके कुछ नुकसान नीचे दिये गये हैं — भांग बीज के तेल में वसा की उच्च मात्रा पायी जाती है जिसका अत्यधिक सेवन आपके पाचन तंत्र में परेशानी पैदा कर सकता है।

जिससे आपको दस्त की सम्भावना रहती है।

यदि आपका किसी प्रकार का ईलाज चल रहा है तो आपको भांग बीज के प्रयोग से पहले अपने डॉक्टर से सलाह कर लेनी चाहिए।

यदि आप किसी प्रकार की एंटीबायोटिक्स या एंटीकोंगुलेंट दवाये ले रहे हैं तो इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

भांग बीज का सेवन करने से कुछ लोगों को एलर्जी हो सकती है।

भांग बीज का प्रयोग गर्भवती महिलाओं को नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे गर्भपात होने का खतरा रहता है।

इसके अधिक सेवन से मस्तिष्क संबंधी समस्या पैदा हो सकती है।

भांग के बीज के बारे में पूछे जाने वाले सवाल —

क्या भांग के बीज सेहतमंद होते हैं?

हाँ, भांग के बीज सेहतमंद होते हैं। क्योंकि भांग के बीज में कई प्रकार के पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं (bhang ke beej ke fayde) जैसे— प्रोटीन, विटामिन ई, ओमेगा फैटी एसिड और मिनरल्स। यह सभी तत्व हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। अत: अगर आप भांग के बीज का सेवन सही मात्रा एवं सही प्रकार से करते हैं तो यह आपकी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है।

क्या हम भांग के बीज रोज खा सकते हैं?

भांग के बीजों के हमारे लिए बहुत से फायदे हैं। यदि आप इसकी सही मात्रा का सेवन करते हैं तो इससे आपको किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं होता है। आप एक दिन में इसकी 1 चम्मच मात्रा का प्रयोग कर सकते हैं। इतनी मात्रा से आपको इसमें पाये जाने वाले पौषक तत्व आसानी से प्राप्त हो जायेंगे।

भांग के बीजों को खाने से क्या नींद आती है?

भांग के बीज में प्रचूर मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है। अत: अगर आप इसकी अधिक मात्रा का सेवन करते हैं तो मैग्नीशियम के कारण आपको अधिक नींद आने की शिकायत हो सकती है।

क्या वजन कम करने में भांग के बीज मददगार होते हैं?

हाँ, यह वजन कम करने में सहायता पहुंचा सकता है। क्योंकि भांग के बीज में फाइबर की प्रचूर मात्रा होती है जो लम्बे समय तक आकपे पेट को भरा रखने में सहायता करता है जिससे आप बार—बार खाना खाने से बच पाते हैं और आपको वजन नियंत्रित रहता है। मगर यह ध्यान रहे यह सिर्फ मदद करता है इससे पूरी तरह से आपको वजन कम नहीं होता है। अत: आपको इसके साथ ही वजन कम करने के​ लिए व्यायाम भी करना चाहिए।

क्या भांग के बीज हमारे लिए नुकसानदेह हैं?

यदि आप भांग के बीज की अधिक मात्रा का सेवन करते हैं तो इससे आपको दस्त, उल्टी आने जैसा, मितली, पेट में दर्द, गले में जलन जैसी कई और परेशानियां हो सकती हैं। अत: आपको इसकी एक निश्चित मात्रा का ही सेवन करना चाहिए।

Leave a Comment

close
Copy link
Powered by Social Snap