बवासीर में गर्म पानी पीने के फायदे | Bavasir mein Garam pani pine ke Fayde

बवासीर में गर्म पानी पीने के फायदे — यदि किसी को बवासीर (Piles) का रोगा हो जाये तो वह इस बिमारी से परेशान रहता है। बवासीर में रोगी के गुदा द्वारा और मलाशय के अन्दर एवं बाहर वाले भाग में सूजन आ जाती है और उसमें मस्से निकल जाते है। जिससे उस रोगी को मल त्यागने में बहुत ही दर्द का सामना करना पड़ता है। कभी—कभी यह दर्द असहनीय हो जाता है। मल त्याग करने समय मस्सों से फटने से खून आने की समस्या भी होती है।

इस बिमारी में खान—पान का विशेष ध्यान रखा जाता है। इसका उपचार करना जरूरी होता है। इसके लिए आयुर्वेद विज्ञान में कई प्रकार के उपचार बताये गये हैं जिसमें से एक है गर्म पानी के द्वारा बवासीर का उपचार करना। हम इस लेख में आगे आपको बवासीर में गर्म पानी पीने के फायदों के बारे में पूरी जानकारी देंगे। तो आइये शुरू करते हैं इस लेख को — Bavasir mein Garam pani pine ke Fayde, Benefits of drinking hot water in piles

बवासीर के प्रकार — Types of Haemorrhoids

बवासीर के दो प्रकार का होता है —

1. बदी बवासीर — यदि किस व्यक्ति को यह बवासीर होता है तेा उसे हमेशा पेट में कब्ज एवं गैस की समस्या रहती है।

2. खूनी बवासीर — इस बवासीर में व्यक्ति को जहां से मल त्यागने में खून निकलता है परन्तु वहां दर्द का अहसास तो नहीं होता है।

( और अधिक पढ़े भगन्दर के घरेलू उपचार ….)

बवासीर के उपचार में गर्म पानी के उपयोग — Use of hot water in the treatment of piles

बवासीर में गर्म पानी का उपयोग कई प्रकार से किया जा सकता है उसमें कुछ मुख्य प्रयोगों को यहां बताने की कोशिश की गई है जो आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।

1. गुनगुना पानी पीना — हल्का गर्म पानी पीने से पाचन शक्ति बढ़ती है। अगर आपकी पाचन शक्ति अच्छी होती है तो आपको कब्ज जैसी बिमारी से मुक्ति मिल जाती है। यदि आपको कब्ज की समस्या नहीं होती है तो आपको मल त्यागने में कोई परेशानी नहीं होती है इस कारण से यह बवासीर से मुक्ति पाने का सीधा तरीका है। इसके लिए आप गुनगुने पानी को सीधे दी सकते हैं या फिर उसमें नींबू या हल्दी को मिलाकर भी पी सकते हैं।

2. सिट्ज बाथ — यह उपचार बहुत ही आम है। इस उपचार को करने की सलाह डॉक्टर अक्सर देते हैं। इसमें एक बाथ टब में गुनगुना पानी डालते हैं और फिर उसमें एक कप एप्पल विनेगर को डालकर अच्छी तरह हिला लेते हैं जिससे वह आपस में मिल जायें। अब बवासीर का रोगी टब में अपने एनस को 10 से 15 मिनट तक उस पानी में डुबोकर रखता है। इस गुनगुने पानी के मिश्रण से मांसपेशियां रिलैक्स हो जाती है जिससे आराम मिलता है। वहीं दूसरी ओर सेब के विनेगर में में एंटी बैक्टीरियल गुण पाया जाता है जिससे बवासीर में दर्द में राहत मिलती है।

3. गर्म पानी का टी बैग — एक यूनिवर्सिटी के शोध के अनुसार यदि आप टी बैग को गुनगुने पानी में डुबो देते है और फिर उसे बवासीर के बहारी मस्सों में इसको लगाते हैं तो इससे उस स्थान पर होने वाले दर्द में राहत मिलती है। इसका कारण है चाय में पाया जाने वाला टैनिन जो सूजन और दर्द में आराम दिलाता है।

बवासीर में गर्म पानी से होने वाले फायदे — Benefits of hot water in piles

  • गर्म पानी के सेवर से बवासीर के रोग में आराम मिलता है। यदि आप कब्ज की समस्या से परेशान हैं तो आपको बवासीर की बिमारी हो सकती है। यदि आप इससे बचन चाहते हैं तो आपकेा गर्म पानी का सेवन करना चाहिए जिससे आपका पाचन तंत्र मजबूत होता है। जिससे आपकसे कब्ज की समस्या से आराम मिलता है। इतना ही नहीं गर्म पानी के सेवन से मल त्यागने की क्रिया आसान हो जाती है। जिससे बवासीर की परेशानी को नियंत्रित रखने में मदद मिलती है।
  • गर्म पानी के सेवन से आपके शरीर की रक्त कोशिकाओं में तनाव कम हो जाता है जिससे रक्त का परिसंचरण बढ़ जाता है और शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। ऐसा होने से बवासीर में होने वाले दर्द में राहत मिलती है।
  • यदि आप प्रतिदिन सुबह—सुबह गर्म पानी का सेवन करते हैं तो आप बवासीर के रोग से छुटकारा पा सकते हैं। गर्म पानी के सेवन से मल द्वार में होने वाले मस्सें कम हो जाते है जिससे मल त्यागने में आसनी होती है और खून भी नहीं निकलता है।
  • गर्म पानी पेट में मौजूद मल को मुलायम कर देता है जिससे बवासीर के रोगी को लाभ होता है। होता यह है कि गर्म पानी के सेवन से कब्ज की समस्या समाप्त हो जाती है जिससे आपको मल त्यागने में आसानी होती है और बवासीर के रोग में भी आराम मिलता है।

दोस्तों हमने इस लेख में आपको गर्म पानी बवासरी के उपचार में कैसे फायदेमंद हो सकता है इसके बारे में आपकेा पूरी जानकारी देने की कोशिश की है आशा करते है कि यह लेख आपके लिए फायदेमंद होगा। अगर आपको यह आर्टिकल ‘बवासीर में गर्म पानी पीने के फायदे’  अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करें।

बवासीर के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे लेख “ भगन्दर के घरेलू उपचार ”  नामक लेख में अवश्य पढ़े।

Leave a Comment

close
Copy link
Powered by Social Snap